.

.

.

.

.

.

,

,
.

अतरौलिया : प्रधानाचार्य के स्थानांतरण से क्षुब्ध छात्राओं ने चक्का जाम कर दिया


अतरौलिया स्थित राजकीय बालिका इंटर कालेज पहले से ही है शिक्षकों की है भारी कमी 

छात्राओं के जाम के चलते एक घंटा तक आजमगढ़-फैजाबाद मुख्य मार्ग पर आवागमन बाधित रहा

आजमगढ़ : अतरौलिया क्षेत्र स्थित राजकीय बालिका इंटर कालेज की प्रधानाचार्य के स्थानांतरण से क्षुब्ध छात्राओं ने शनिवार को मुख्य मार्ग पर चक्काजाम कर दिया। मार्ग के दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइन लग गई। जाम की सूचना पर प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानांतरण वापस लेने की मांग पर अड़ी छात्राओं को समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया। इस बीच करीब करीब एक घंटा तक आजमगढ़-फैजाबाद मुख्य मार्ग पर आवागमन बाधित रहा।
जानकारी मुताबिक अतरौलिया स्थित राजकीय बालिका इंटर कालेज में अंग्रेजी की प्रवक्ता पद पर कार्यरत प्रभारी प्रधानाचार्य रश्मि सिंह का स्थानांतरण होने की खबर जैसे ही विद्यालय की छात्राओं को लगी तो छात्राएं आंदोलित हो गईं। राजकीय विद्यालय अतरौलिया में कुल 350 छात्राएं पंजीकृत हैं उनके सापेक्ष विद्यालय में कुल 5 अध्यापिकाएं हैं जबकि अध्यापिकाओं की कुल स्वीकृतियां, पदों की संख्या 19 है इस कारण छात्राओं का पठन पाठन अत्यधिक प्रभावित हो रहा है परीक्षा बिल्कुल नजदीक है अन्य विषयों के अध्यापक अपने विषय के अलावा अन्य विषय भी पढ़ाते हैं फिर भी सारे विषयों की उचित ढंग से पढ़ाई करवा पाने में अत्यधिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है ।छात्राओं की मांग है कि हमारे पूर्व विषय के लिए यहां पर टीचर पर्याप्त नहीं है उसके बावजूद भी हमारे टीचरों का ट्रांसफर कर दिया जाता है जिससे हम लोगों की पढ़ाई बिल्कुल बाधित हो रही है सभी छात्राएं एक ही स्वर में कह रही कि हमारी मैडम को वापस दीजिए तभी हम जाम हटाएंगे, नारा लगाते हुए लगभग 1 घंटे तक केसरी तिराहे पर बैठी रही ।छात्राएं अतरौलिया के केसरी तिराहा पर जाम लगाकर अपनी मांगों को मनवाने के लिए नारे लगाने लगीं। छात्राओं का आरोप है कि विद्यालय में मात्र पांच ही अध्यापक कार्यरत हैं। इनमें से भी अब एक का ट्रांसफर हो चुका तो मात्र चार अध्यापक ही बचे हैं। सामने बोर्ड की परीक्षा है, ऐसे में हम लोगों का पठन-पाठन कार्य पूरी तरह प्रभावित होगा। प्रभारी निरीक्षक अतरौलिया हेमेंद्र सिंह के आश्वासन पर छात्राएं मान गईं और स्कूल में पहुंचीं जहां हंगामा खड़ा कर दिया। मौके पर पहुंचे उप जिलाधिकारी बूढ़नपुर दिनेश मिश्र ने छात्राओं को बताया कि आप की प्रधानाचार्य ने ही स्थानांतरण की अर्जी दी थी। बाद में अपना स्थानांतरण रोकवाने का भी उन्होंने प्रार्थना पत्र दिया। हम स्थानांतरण रोकवाने की पूरी कोशिश करेंगे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment