.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मऊ : धमाके के बाद मकान मलबे में तब्‍दील,12 की मौत, कई गंभीर


सिलेंडर में धमाका होने के बाद पूरा मकान मलबे में तब्‍दील हो गया, सुरक्षा एजेंसियां जांच में जुटी 

मुख्यमंत्री ने हादसे पर गहरा दुःख जताया , अधिकारियों को राहत और बचाव कार्य में लगने के दिए निर्देश 

मऊ: वलीदपुर नगर के मोहल्ला बिचलापुरा में सोमवार की सुबह एक घर अचानक हुए धमाके में पूरी तरह मलबे में तब्‍दील हो गया। हादसे के बाद स्‍थानीय लोगों के सहयोग से कुल सात लोगों का शव निकाला गया, वहीं पांच अन्‍य लोगों की मौत बाद में हो गई। हादसे में अन्‍य दर्जन्‍ भर लोगों की हालत काफी गंभीर बनी है, सभी काे अस्‍पताल में भर्ती करा दिया गया है। इस भीषण हादसे की जानकारी होने के बाद मौके पर डीएम और एसपी के साथ अन्‍य अधिकारी भी पहुंचे और हालात का जायजा लिया।
जानकारी के अनुसार परिवार में सुबह एचपी के घरेलू सिलेंडर में भोजन बन रहा था, इसी दौरान सिलेंडर में धमाका होने के बाद पूरा मकान मलबे में तब्‍दील हो गया। वहीं हादसे की जानकारी मिलते ही राहत और बचाव के लिए एनडीआरएफ की टीम डिप्टी एसपी अहसानुल्लाह खान के नेतृत्व में गोरखपुर से मौके पर पहुंच गई।दूसरी ओर हादसे की जांच के लिए डागस्‍क्‍वायड, फोरेंसिक टीम और बम डिस्पोजल दस्‍ता भी पहुंचा और हादसे के वजहों की पड़ताल की। हालांकि सुरक्षा से जुड़ी संभावनाओं की पड़ताल के लिए एटीएस की टीम भी मौके पर जांच के लिए रवाना हो गई है।
स्‍थानीय लोगों के अनुसार सोमवार तड़के करीब सात बजे वलीदपुर नगर में बिचलापुर मोहल्ले में छोटू विश्वकर्मा के घर अचानक जोरदार धमाके की आवाज सुनाई पड़ी। धमाका इतना जोरदार था कि मकान पूरी तरह मलबे में तब्‍दील हो गया, जबकि आस पड़ोस के मकानों में दरारें तक पड़ गईं। इस दौरान आस-पड़ोस के करीब चार म‍कान भी क्षतिग्रस्‍त हो गए।
वहीं हादसे की जानकारी होते ही पूरा मोहल्‍ला उमड़ पड़ा और ध्‍माके में ध्‍वस्‍त मकान से घायलों को एक-एक कर निकालना शुरू किया। वहीं हादसे की जानकारी होते ही पुलिस टीम भी पहुंची और राहत व बचाव कार्य शुरु किया गया। एक-एक कर सात शव मकान से निकले जबकि चौदह घायलों को अस्‍पताल भेज दिया गया। वहीं इलाज के दौरान भी गंभीर रूप से पांच अन्‍य घायलों ने दम तोड़ दिया। इस तरह सिलेंडर धमाके में मृतकों की संख्‍या बढ़कर 12 हो गई।
हादसे के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों ने तत्‍काल एंबुलेंस बुलाकर घायलों को अस्‍पताल भेजा जहां कुछ की स्थिति काफी नाजुक बनी हुई है। वहीं आस पास के कुछ लोग भी हादसे की चपेट में आए हैं, उनको भी इलाज के लिए अस्‍पताल भेज दिया गया। जानकारी होने के बाद अस्‍पताल में चिकित्‍सकों को अलर्ट कर दिया गया और घायलों के पहुंचने के साथ ही इलाज शुरू कर दिया गया। वहीं स्‍थानीय लोगों के सहयाेग से पुलिस मलबे में अन्‍य घायलों की तलाश कर रही है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पूरी तरह से संतुष्‍ट होने के बाद ही राहत और बचाव कार्य रोका जाएगा।
घायलों की सूची : शैलेश वर्मा पुत्र रामाश्रय (32) वर्ष, रामबालक मद्धेशिया पुत्र केशव (57) वर्ष, रीना पुत्री कन्हैया (22) वर्ष, मोना पुत्री छोटू (20), सुनीता पत्नी भिर्गु नाथ (30) वर्ष, ममता पुत्री कन्हैया (22) वर्ष, सोनम पुत्री कन्हैया (21), चमेली पत्नी स्वर्गीय नारायण (50) वर्ष, सुभावती पत्नी स्वर्गीय खेदु (58) वर्ष, रामरति पत्नी सत्यप्रकाश (50) वर्ष, अजीत पुत्र भिर्गु नाथ उम्र (8) वर्ष, अर्चना पुत्री बिरजू (15) वर्ष, संजना पुत्री स्वर्गीय छोटू (16) वर्ष, इंद्रावती पत्नी दूधनाथ (45) वर्ष।
मृतकाें की सूची : सुरेन्द्र, इम्तियाज, मोहम्मद जीशान, यासिर गनी (शेष आठ अज्ञात)।
सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने शोक व्‍यक्‍त किया
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मऊ जिले में सिलेंडर फटने के हादसे में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने जिला प्रशा‍सनिक अधिकारियों को घायलों के उपचार की समुचित व्यवस्था करने तथा इस हादसे के पीड़ितों को हर संभव मदद एवं राहत प्रदान करने के आवश्‍यक निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगत लोगों के आत्मा की शान्ति की प्रार्थना करते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment