.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : निःशुल्क चिकित्सा शिविर में 300 से अधिक मरीजो का इलाज किया गया


श्री रामानंद सरस्वती पुस्तकालय जोकहरा में बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. डी.डी. सिंह और उनकी टीम के द्वारा निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगाया 

आजमगढ़ : श्री रामानंद सरस्वती पुस्तकालय जोकहरा, आजमगढ़ में बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. डी.डी. सिंह और उनकी टीम के द्वारा निःशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में 300 से अधिक मरीजो का इलाज किया गया तथा निःशुल्क दवा का वितरण भी किया गया।
शिविर के सम्बन्ध में डॉ. डी.डी. सिंह ने बताया कि इस क्षेत्र में बाढ़ के पानी के घटाव के कारण बीमारियों का खतरा बढ़ गया है, इसलिए यह निश्चय किया गया कि रविवार को यहाँ निःशुल्क शिविर का आयोजन किया जाय। आज के शिविर में चर्म रोग, बुखार, सर्दी, खाँसी, खून की कमी, उलटी, दस्त आदि के मरीज अधिक संख्या में थे।
इस मौसम की बीमारियों से बचाव के बारे में डॉ. डी.डी. सिंह ने बताया कि पानी उबालकर ठंढा करके प्रयोग करें। खाने से पहले और शौच के बाद साबुन से हाथ अवश्य साफ करें। घर का ताजा और सादा भोजन ही प्रयोग करें। बाहर की तली भुनी खाद्य सामग्री का त्याग करें। मच्छर से बचाव के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करें। घर के आसपास पानी इकट्ठा न होने दें। मच्छर भगाने वाली विधि का प्रयोग करें। टॉफ़ी, चॉकलेट, बिस्कुट, कुरकुरे, नमकीन, मैगी, चाऊमीन का सेवन न करें। मोबाइल और इंटरनेट का प्रयोग नियंत्रित करें।
पुस्तकालय की निदेशिका हिना देसाई ने कहा कि मैं डॉ. डी.डी. सिंह और उनकी टीम की आभारी हूँ, जिन्होंने इस जरूरतमंद लोगों के बीच आकर स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया।
पुलिस अधीक्षक प्रो. त्रिवेणी सिंह ने डॉ. डी.डी. सिंह को अंगवस्त्रम और प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया साथ ही टीम के सभी सदस्यों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया।
पुलिस अधीक्षक प्रो. त्रिवेणी सिंह ने कहा कि इस तरह के आयोजन से निश्चित ही इस क्षेत्र के लोगों को फायदा मिला है, जिसके लिए डॉ. डी.डी. सिंह बधाई के पात्र हैं।
इस अवसर पर हिना देसाई, डॉ प्रवीण चतुर्वेदी, डॉ सर्वेश सिंह, प्रेम सागर यादव, सूरज सिंह, लीला शर्मा, संध्या, उषा, अंतिमा सहित तमाम पुलिस के अधिकारी लोग उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment