.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मऊ विस्फोट कांड के आजमगढ़ अस्पताल में भर्ती घायलों के उपचार में कोई लापरवाही न हो - जिलाधिकारी

 

मऊ के 10 घायलों को जिला अस्पताल लाया गया था , एक की मौत शेष 09 का उपचार जारी 

डीएसओ तथा समस्त एसडीएम को निर्देश, समस्त गैस एजेन्सियों के गोदामों का निरीक्षण कर मानक परखें 

आजमगढ़ 14 अक्टूबर -- जनपद मऊ के विकास खण्ड मोहम्मदाबाद गोहना के नगर पंचायत वलीदपुर कस्बे में आज प्रातः स्व0 छोटू विश्वकर्मा के मकान में गैस सिलेण्डर फटने के कारण मकान पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त होने से कुछ लोगों की मृत्यु हो चुकी है तथा कुछ लोग घायल हो चुके हैं, जिसमें से 10 घायल लोगों को जिला अस्पताल आजमगढ़ में ईलाज हेतु भर्ती कराया गया है। जिसमें 01 व्यक्ति की मृत्यु हो गयी है, शेष 09 घायलों का ईलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।
घायलों में मनता, अजीत, रीना, मोना, चमेली, सावित्री, सुभावती, रामरती तथा रामबालक शामिल हैं। जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा जिला अस्पताल में भर्ती हुए घायलों को देखा तथा उनके बारे में जानकारी प्राप्त की। इसी के साथ ही साथ जिलाधिकारी ने जिला अस्पताल के एसआईसी को निर्देश दिये कि उक्त घायलों के उपचार में कोई भी लापरवाही नही होनी चाहिए, इनके ईलाज में दवा की कोई कमी न हो, इसका पूरा ध्यान रखा जाय।
इसी के साथ ही साथ जिलाधिकारी ने डीएसओ तथा समस्त एसडीएम को निर्देश देते हुए कहा कि अपने-अपने संबंधित क्षेत्रों में संचालित होने वाले समस्त गैस एजेन्सियों के गोदामों का निरीक्षण करें तथा यह भी जाॅच करें कि गैस सिलेण्डरों का भण्डारण मानक के अनुसार किया जा रहा है कि नही। यदि गैस सिलेण्डर का भण्डारण मानक के अनुरूप नही हो रहा है तो संबंधित गैस एजेन्सियों पर कड़ी कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। आगे यह भी सुनिश्चित करें कि कोई भी गैस एजेन्सी घनी आबादी में गैस सिलेण्डरों का वितरण न करे, गैस सिलेण्डरों का मानक के अनुसार होम डिलीवरी करें, यदि इसमें कहीं किसी प्रकार की कमी पायी जाती है तो सख्त कार्यवाही करें।
आगे जिलाधिकारी ने आम जनता से अपील किया है कि यदि कोई गैस एजेन्सी गैस सिलेण्डरों का अवैध भण्डारण करता है तो इसकी सूचना लैण्डलाइन नम्बर 05462-260402 पर दे सकते हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment