.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

आजमगढ़ : उपनिबंधन कार्यालय सदर ने आईएसओ 9001-2015 का खिताब हासिल किया

प्रदेश की दर्जनों तहसीलों को पीछे छोड़ते हुए क्वालिटी मैनेजमेंट सिस्टम में मिली उपलब्धि 

आजमगढ़ : उपनिबंधन कार्यालय सदर ने प्रदेश की दर्जनों तहसीलों को पीछे छोड़ते हुए क्वालिटी मैनेजमेंट सिस्टम के मामले में आईएसओ 9001-2015 का खिताब अपने नाम किया है। उपनिबंधन कार्यालय मीरजापुर की लालगंज, बाराबंकी की नवाबगंज व लखनऊ की सदर सहित दर्जनों तहसीलों से आगे निकल गया है। सबसे मजेदार बात है कि यह कार्यालय बिना कोई शासकीय धन खर्च किए आस्ट्रिया का यह प्रमाण पत्र अपने नाम किया है। सब रजिस्ट्रार सौरभ कुमार को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। विभागीय कर्मचारियों ने उनका स्वागत करने का निर्णय लिया है।
प्रदेश सरकार ने प्रदेश की चालीस तहसीलों को आईएसओ 9001-2015 के मानक के अनुरूप प्रमाणित कराने के उद्देश्य से भारी भरकम धन रिलीज किया। इससे इन तहसीलों को पूरी तरह से सुंदरीकरण भी किया गया। यह तहसीलें रिकार्ड मैनेजमेंट, कार्यालय व जनसुविधाओं सहित तमाम कार्यों पर भरपूर कार्य भी किया। इस होड़ में उपनिबंधन कार्यालय सदर भी शामिल था। यहां के सब रजिस्ट्रार ने कोई भी शासकीय धन नहीं लिया और लोगों से सहयोग मांगा। जनपद के लोगों ने भरपूर उनका साथ दिया। सौरभ के प्रयास से तहसील का सुंदरीकरण किया गया। यहां 1800 से 1950 तक फारसी और ऊर्दू के दुर्लभ रिकार्ड डिजिलाइजेशन कर सहेजा गया है। अभिलेखों की लाइब्रेरी द्वितीय तल पर बनाई गई है। टीवी, आरओ, फोटोकापी, स्मोक डिटेक्टर, फ्री वाईफाई, सोलर पावर यंत्र, प्रिटर, सीसी टीवी कैमरा, ह्वील चेयर, एअरकूल्ड वेटिग रूम, एसी, डिस एंटीना आदि से लैस किया गया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment