.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

वेतन की मांग को ले कर सीडाट पर बीएसएनएल कर्मियों ने प्रदर्शन किया

विभाग अगस्त 2019 का वेतन भुगतान करने में विफल रहा है जो दुर्भाग्यपूर्ण है- आनन्द कुमार सिंह

आजमगढ़: वेतन न मिलने के विरोध में बीएसएनएल इम्प्लाइज यूनियन (सीएचक्यू) के आहवान् पर जिला सचिव बीएसएनएलईयू के आनन्द कुमार सिंह के नेतृत्व में मंगलवार को भोजनावकाश में सीडाट पर बीएसएनएल कर्मियों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान कर्मियों ने सरकार पर आरोप लगाया कि निजी कम्पनियों को लाभ पहुंचाने की गरज से जानबूझकर कर्मियों को परेशान और विभाग को क्षति पहुंचायी जा रही है। जिसे यूनियन कभी बर्दाश्त नहीं करेगा।
जिला सचिव बी.एस.एन.एल.ई.यू. के आनन्द कुमार सिंह ने कहा कि डाट और बीएसएनएल मैनेजमेंट द्वारा अगस्त माह के वेतन का समय पर भुगतान किया जा सकता था लेकिन सरकार द्वारा पेंशन कांट्रिब्यूशन के रुप में बीएसएनएल मैनेजमेंट द्वारा अधिक भुगतान की गई राशि के रुप में बहुत बड़ी राशि बीएसएनएल को वापस की जानी है। यूनियन को मालूम है कि डाट और बीएसएनएल को देय अन्य कुछ पेमेन्ट की तिथि निकट है। सरकार की गलत नीतियों के चलते बीएसएनएल मैनेजमेंट एक बार पुनः अपने कर्मचारियों को अगस्त 2019 का वेतन भुगतान करने में विफल रहा है जो दुर्भाग्यपूर्ण है। यहां तक कि जिम्मेदार यह भी बताने की स्थिति में नहीं है कि वेतन का भुगतान आखिर कब तक होगा। यह तीसरा मौका है जब बीएसएनएल मैनेजमेंट अपने कर्मचारियों को समय पर वेतन भुगतान नहीं कर पा रहा है। जिसको लेकर देशव्यापी प्रदर्शन किया जा रहा है। आगे आनंद सिंह ने आरोप लगाया कि बीएसएनएल जिस नकदी की कमी से जूझ रहा है। वह राजस्व में आई भारी गिरावट की वजह से है और यह गिरावट रिलायन्स जियों द्वारा अपनाई गई लागत से कम मूल्य का नतीजा है। उपर्युक्त कारणों से बी.एस.एन.एल. को राजस्व संग्रह 32000 करोड़ से गिर कर 18000 करोड़ हो गया है। सरकार द्वारा रिलायन्स जियों द्वारा लागू प्रीडेटरी प्राइसिंग पर रोक के लिए कोई सार्थक प्रयास नहीं किए गए है और न ही दूरसंचार उद्योग को गंभीर संकट से उबारने के लिए।
पंचानन राय ने कहा कि वर्तमान परिस्थिति में बीएसएनएलईयू एक बार पुनः मांग करती है कि भारत सरकार व बीएसएनएल मैनेजमेंट बीएसएनएल को शीघ्र साफ्ट लोन देने हेतु आवश्यक कार्यवाही करें साथ ही कर्मचारियों को अगस्त माह का त्वरित भुगतान सुनिश्चित करने के लिए डाट और बीएसएनएल मैनेजमेंट सार्थक कार्यवाही करें। धरने में प्रमुख रुप से पंचानन्द राय, आर. के. यादव, महेश कुमार, प्रशान्त यादव, यशवन्त सोनकर, प्रतिमा सिंह, नीलम, राजपति देवी, किसमती देवी, राजा राम, श्याम नारायण यादव, अशोक यादव, एस. पी. पाण्डेय, यू. के. सिहं, संतोष सिंह, सुनील उपाध्याय, सुनील सिंह, राम आशीष यादव, विरेन्द्र चैबे, हरिनाथ राम वैभव सिंह, सादिक अली, जे. पी. यादव, सुदर्शन चैहान, शोभनाथ तिवारी, जय प्रकाश पाण्डेय, मदन लाल यादव, राम भुवाल, आर. पी. सोनकर, सुनील सिंह, बृजराज, श्याम बचन, अब्दुल हन्नान, राम दरश भारती, छेदी शर्मा, पुन्नु लाल, जंगशेर सिंह, नन्द लाल यादव, सुनील चैहान, विवेक विश्वकर्मा, सुभाष सोनकर, दीपचन्द, निर्भय नारायण सिंह, अशोक तिवारी, मुन्नी लाल यादव, विवेक, राम आशीष यादव, एस. पी. सिंह, हरेन्द्र दूबे, सुधाकर पाण्डेय देवेश, आदि लोग उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment