.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

आजमगढ़: पहली पुण्यतिथि पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई को भाजपा ने दी श्रद्धांजलि

एक सशक्त प्रधानमंत्री और अपने संकल्पों के प्रति दृढ़प्रतिज्ञ थे अटल जी -अमित तिवारी ,प्रदेश मीडिया पैनलिस्ट

आजमगढ़: भारतीय जनता पार्टी जिला कार्यालय पर देश के सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की पहली पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सभा और गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिलाध्यक्ष जयनाथ सिंह के साथ पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं ने अटल जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित किया। इस अवसर पर प्रदेश मीडिया पैनलिस्ट अमित तिवारी मौजूद रहे। संचालन जिला उपाध्यक्ष पंकज सिंह कौशिक ने किया।
इसी क्रम में नगर कार्यालय पर नगर अध्यक्ष विनय प्रकाश गुप्त जी के नेतृत्व में श्रद्धांजली सभा और गोष्ठी का आयोजन किया गया
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष जयनाथ सिंह ने कहा कि मां भारती के अमर सपूत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई जनसंघ के संस्थापक सदस्यों में से एक थे। भारतीय जनता पार्टी की स्थापना के बाद भाजपा के प्रथम राष्ट्रीय अध्यक्ष बने। 1996 में पहली बार प्रधानमंत्री बने लेकिन लेकिन 13 दिनों के बाद बहुमत नहीं होने के कारण उन्हें अपने पद से त्यागपत्र देना पड़ा। 1998 में वह दूसरी बार प्रधानमंत्री बने और 13 महिनें तक सरकार चली। तीसरी बार वह 1999 में फिर से प्रधानमंत्री बने और अपना पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा किया। 2004 के बाद स्वास्थ ठीक नहीं होने के कारण उन्होंने राजनीति से दूरी बना ली और 16 अगस्त 2018 को लम्बीं बिमारी से उनका निधन हो गया। उनकी अस्थियों को देश की 100 नदियों में विसर्जित किया गया। उनका जीवन भारत माता की सेवा के लिए समर्पित रहा । उन्होंने कभी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। देश के वह इकलौते ऐसे नेता थे जिनका सम्मान विरोधी दल के लोग भी करते थे कभी किसी ने उनकी आलोचना नहीं किया।उनका जीवन सदैव हम सब के लिए प्रेरणा श्रोत रहेगा। उनका जीवन भारतीय राजनीति के शिखर पर चमकते सुर्य के समान है जो हर अन्धकार को दूर करता रहेगा।
प्रदेश मीडिया पैनलिस्ट अमित तिवारी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई प्रखर वक्ता, कवि व पत्रकार थे। उनकी कविताओं और उनके ओजस्वी भाषण हमें भारत माता की सेवा करने की प्रेरणा देते है ।वह भूख भय , निरक्षरता, और अभाव से मुक्त भारत का निर्माण करना चाहते थें। उन्होंने अपना पूरा जीवन मां भारती के गौरव को बढ़ाने के लिए समर्पित कर दिया। वह एक सशक्त प्रधानमंत्री थे वह अपने संकल्पों के प्रति दृढ़प्रतिज्ञ थे। जब उनकी सरकार एक वोट कम होने के कारण गिर गई थी तब उन्होंने कहा था की आज हमारी सदस्य संख्या कम होने के कारण जो लोग हमपर हंस रहें हैं एक दिन ऐसा आएगा जब पूरे देश में चौतरफा कमल खिलेगा और देश उन पर हंसेगा।आज देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत की सरकार है। जो सपना अटल बिहारी वाजपेई ने समृद्धि शक्तिशाली भारत का सपना देखा था वह आज पूरा हो रहा है। आज प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के प्रयासों से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370और 35A जो देश के लिए नासूर बना हुआ था उसको समाप्त कर दिया गया है। आज उनकी आत्मा निश्चित ही प्रसन्न होगी। आज हम उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर उनके बताए गये मार्ग पर चलने का संकल्प लेते हुए उनको श्रद्धासुमन अर्पित करतें हैं ।
इस अवसर पर नगर अध्यक्ष विनय प्रकाश गुप्त ने कहा कि मां भारती के अमर सपूत पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई जी का जीवन हम सभी के लिए प्रेरणाश्रोत हैं। अपने मधुर वचनों, वाक पटुता, और अपनी भाषा शैली से वह विरोधियों को भी अपना बना लेते थें। उन्होंने भारत के विकास के स्वर्णीम भविष्य की मजबूती नींव रखी। जिसपर भारत के विकास की भव्य इमारत का निर्माण माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में हो रहा है।
इस अवसर पर पंकज सिंह कौशिक, हनुमंत सिंह, हरिवंश मिश्रा, राकेश सिंह, विनय प्रकाश गुप्त, धर्मेन्द्र सिंह, पूनम सिंह, पंकज सिंह, राम प्रताप सिंह मोनू, कुशल सिंह गौतम, दिवाकर सिंह, विवेक निषाद, मृगांक शेखर सिन्हा, विनीत गौतम, राजीव शुक्ला, मोनू विश्वकर्मा, नरेन्द्र बहादुर सिंह, मनोज गुप्ता, सुभाष सिंह, हंसराज साहनी, जूही श्रीवास्तव, पूनम शर्मा साधना पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।  

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment