.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

बाल श्रमिकों से कार्य कराते हुए पाये गये तो सेवायोजक से २० हजार प्रति बाल श्रमिक वसूली होगी

विश्व बाल श्रम विरोध दिवस के अवसर पर समाज से बाल श्रम को जड़ से उखाड़ फेकने की शपथ ली गयी

आजमगढ़ 12 जून-- विश्व बाल श्रम विरोध दिवस के अवसर उप श्रम आयुक्त आजमगढ़ की अध्यक्षता में गोष्ठी/कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जनपद के विभिन्न क्षेत्रों से आये हुए श्रमिकों /सेवायोजकों को बाल श्रमिक से कार्य न लिए जाने एवं बाल श्रम जन चेतना जाग्रत के सम्बंध में जानकारी प्रदान की गयी।
उन्होने कहा कि यदि कोई सेवायोजक द्वारा बाल श्रमिकों से कार्य कराते हुए पाये गये तो उनके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही कर रू0 20000 प्रति बाल श्रमिक वसूली प्रमाण-पत्र जारी किया जायेगा। उन्होने गोष्ठी में उपस्थित सभी स्वयं सेवी संस्थाओं/सेवायोजकांे से अपील किया कि यदि कहीं बाल श्रमिक कार्य करते दिखाई दे रहे है, तो उसकी सूचना उपलब्ध करायी जाय, जिससे निरीक्षण कर सेवायोजक/प्रतिष्ठान के स्वामी के विरूद्ध विधिक कार्यवाही किया जायेगा। समाज से बाल श्रम को जड़ से उखाड़ फेकने की शपथ ली गयी।
कार्यक्रम का संचालन, राष्ट्रीय बाल श्रम परियोजना के पूर्व फील्ड आफिसर संजय पाण्डेय ने किया। बीडी मजदूर यूनियन के अध्यक्ष कैलाश प्रसाद गौड़, स्वयं सेवी अरविन्द कुमार, एवं कार्यलय उप श्रम आयुक्त आजमगढ़ के स्टाफ अनिल कुमार सिंह, आशुलिपिक सुरेश चन्द, वरिष्ठ सहायक ओमप्रकाश, वरिष्ठ सहायक, संदीप विश्वकर्मा, सहायक लेखाकार, श्रीकान्त, अमरजीत, धर्मेन्द्र, श्रीमती प्रियंका तिवारी आदि लोग उपस्थिति रहे । उपस्थित सभी स्वयं सेवी संस्था/सेवायोजकों को आभार प्रकट करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment