.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मुख्य सचिव के पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के हवाई निरीक्षण के बाद लापरवाही में डीएफओ हटाए गए

पेड़ों के न हटाने के कारण आजमगढ़ के उन स्थलों पर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण बाधित है-मुख्य सचिव 

आजमगढ़: मुख्य सचिव डा. अनूप चंद पांडेय ने रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की महत्वाकांक्षी यूपीडा द्वारा (उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण) निर्माणाधीन पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के पैकेज पांच व छह का हवाई निरीक्षण किया। इसके बाद किशुनदासपुर स्थित पीएनसी कार्यालय में पैकेज पांच व छह की प्रगति संबंधी समीक्षा की।
अमेठी और सुल्तानपुर के बाद आजमगढ़ में निर्माणाधीन एक्सप्रेस-वे की समीक्षा में मुख्य सचिव ने परियोजना से जुड़े अधिकारियों से प्रगति की जानकारी ली। बताया गया कि जिले में परियोजना के निर्माण में आने वाले वन विभाग के 2089 पेड़ अभी भी हटाए नहीं गए हैं। इन पेड़ों के बदले दोगुने यानी 4178 पौधरोपण एवं रखरखाव के लिए प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं विभागाध्यक्ष द्वारा गठित टीम की संस्तुति की दरों पर यूपीडा द्वारा 48,71,546 रुपये प्रभागीय वनाधिकारी को 29 अप्रैल को ही उपलब्ध कराया जा चुका है। पेड़ों के न हटाने के कारण आजमगढ़ के उन स्थलों पर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण बाधित है। इस पर मुख्य सचिव ने प्रभागीय निदेशक वानिकी (डीएफओ) सुधीर कुमार को लखनऊ मुख्यालय से संबद्ध किए जाने का निर्देश दिया। अन्य अधिकारियों को निर्माण कार्य में आ रही परेशानी को समय से रहते निस्तारण के निर्देश दिए। इस अवसर पर यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश अवस्थी, यूपीडी के सलाहकार आर. गोडबोले, मंडलायुक्त जगत राज, डीआइजी मनोज तिवारी, डीएम आजमगढ़ शिवाकांत द्विवेदी, डीएम आंबेडकरनगर, एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह सहित यूपीडा के सभी संबंधित अधिकारी, संबंधित एसडीएम व तहसीलदार थे।  

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment