.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

गुंडों के सरताज है अखिलेश यादव,23 मई के बाद मायावती भी यही कहेंगी : योगी आदित्यनाथ

एक तरफ गुंडों का सरताज तो दूसरी तरफ भोजपुरी का सरताज चुनाव लड़ रहा है,
सपा सरकार ने आतंकियों के ऊपर दर्ज मुकदमों को वापस लेने का प्रयास किया था,
पहले पुलिस वाले अपराधियों से डरते थे अब हाल उल्टा है - सीएम योगी

शिवपाल यादव परेशान हैं की  हमारी कोई बहन नही नहीं थी तो यह बुआ कहा से आ गयी - योगी 

 
आजमगढ़। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहाकि एक तरफ गुंडों का सरताज तो दूसरी तरफ भोजपुरी का सरताज चुनाव लड़ रहा है। ऐसे में आपको यह निर्णय लेना होगा कि आप किसको जिता करके दिल्ली भेजेंगे। जब प्रदेश में सपा की सरकार थी तो उन्होने केन्द्र सरकार के पैसों का बंदरबांट किया। योजनाओं का लाभ पात्रों तक नहीं पंहुचने दिया। मुख्यमंत्री गुरूवार को मंदूरी हवाई पट्टी के पास पार्टी द्वारा आयोजित संकल्प महारैली को सम्बोधित कर रहे थे।
उन्होने कहाकि सपा ने अपने शासनकाल में आतंकवादियों पर दर्ज मुकदमों को वापस लेने का काम किया था हमें भ्रष्टाचार, गुंडाराज व गरीबों के पैसों की सेंधमारी करने वालों की जरूरत नहीं है। किसानों को उनके उपज का उचित मूल्य गरीबों को शौचालय, गैस कनेक्शन, बिजली कनेक्शन, किसान सम्मान निधि देने का काम भाजपा सरकार ने किया। जो देश व प्रदेश में विकास नहीं चाहते वह मोदी का विरोध कर रहे है। सपा व बसपा की सरकार ने जाति देखकर योजनाओं का लाभ दे रही थी। लेकिन भाजपा सरकार ने बगैर किसी भेदभाव के सबका साथ सबका विकास की तर्ज पर सबकों योजनाओं का लाभ देने का काम किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहाकि आजमगढ़ सदर लोकसभा के प्रत्याशी व लालगंज की प्रत्याशी नीलम सोनकर को विकास के लिए जिताना होगा। जनसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश के लोग बीते पांच वर्ष से काफी सुकून महसूस कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर वर्ग के लोगों के लिए काम किया। उन्होंने कहा कि जब हमने सत्ता संभाली थी तो प्रदेश में हर जगह पर कानून-व्यवस्था का हाल बेहद खराब था। पुलिस वाले अपराधियों से डरते थे। अब हाल उल्टा है। प्रदेश में अब जो भी कानून को अपने हाथ में लेगा उसका स्थान या तो जेल में है या फिर राम नाम की सत्य की यात्रा है।
उन्होंने कहा कि आजमगढ़ में अभी तक एक भी विश्वविद्यालय नहीं था। जब हम पिछली बार सत्ता में आए तो इसकी स्वीकृति हमने दी थी। आजमगढ़ और लालगंज सीट  दीजिये आने वाले समय में हम ही इसका उद्घाटन करेंगे।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शिवपाल यादव पर तंज कसते हुए कहाकि वह अपने बुजुर्गों से पूछ रहे है कि हमारी भी कोई बहन थी क्या? वह कहीं गुम हो गयी है। जब हमारी कोई बहन नही नहीं थी तो यह बुआ कहा से आ गयी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment