.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : सामान्य ,व्यय एवं पुलिस प्रेक्षकों ने शांतिपूर्वक चुनावों हेतु अधिकारियों को दिए निर्देश

वाहनों की चेकिंग करें तथा इसकी रिपोर्ट प्रतिदिन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें-  जलिन्दर डी0 सुपेकर, पुलिस प्रेक्षक 

चुनावी रैली समाप्त होने के 02 घंटे अंदर पूरा ब्यौरा उपलब्ध कराया जाय -अभिषेक चन्द्रा, सामान्य प्रेक्षक 

आजमगढ़ 30 अप्रैल-- लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 को सकुशल, निष्पक्ष, भयमुक्त तथा शान्तिपूर्वक सम्पन्न कराने हेतु लोकसभा क्षेत्र 69-आजमगढ़ के सामान्य प्रेक्षक अभिषेक चन्द्रा, व्यय प्रेक्षक अभय कुमार सिंह, पुलिस प्रेक्षक जलिन्दर डी0 सुपेकर, आईपीएस, जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी, पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह तथा लोकसभा क्षेत्र 68-लालगंज (अ0जा0) के जिला निर्वाचन अधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी डी0एस0 उपाध्याय की उपस्थिति में प्रभारी/नोडल अधिकारी/सहायक प्रभारी अधिकारियों के साथ बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर पर लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के अन्तर्गत किये गये समस्त तैयारियों तथा की गयी गतिविधियों का पावर प्वाइंट प्रजेन्टेशन प्रोजेक्टर के माध्यम से किया गया। एसपी ग्रामीण एनपी सिंह ने बताया कि प्रत्येक विधान सभा के लिए 30 स्टैटिक सर्विलांस टीम लगी हुयी है जो प्रत्येक थाना क्षेत्र में 8-8 घण्टे की चेकिंग करती है। इसी के साथ ही उड़न दस्ता टीम भी बराबर वाहनों की चेकिंग कर रही है।
पुलिस प्रेक्षक जलिन्दर डी0 सुपेकर ने कहा कि आदर्श आचार संहिता के अन्तर्गत उड़न दस्ता तथा स्टैटिक सर्विलांस टीम द्वारा जब्त की गयी धनराशि बहुत की कम है, इस पर पुलिस प्रेक्षक ने उड़न दस्ता तथा स्टैटिक सर्विलांस टीम के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर वाहनों की चेकिंग करें तथा इसकी रिपोर्ट प्रतिदिन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
सामान्य प्रेक्षक अभिषेक चन्द्रा ने समस्त एसडीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि एमसीसी की रिपोर्ट नही आ रही है, इसे प्रतिदिन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने एफएसटी, एसएसटी, विडियो निगरानी टीम, विडियो सर्विलांस टीम को निर्देशित करते हुए कहा कि जहां भी रैली हो रही है, रैली में पहुंचकर अपने-अपने दायित्वों का निर्वहन करें, रैली समाप्त होने के दो घण्टे के अन्दर पूरा ब्यौरा सहायक व्यय प्रेक्षक को उपलब्ध करायें। इसी के साथ ही उन्होने यह भी कहा कि पेट्रोल पम्पों को भी चेक करें कि रैली के पूर्व कितने वाहनों में तेल भरा जा रहा है तथा कितनी गाड़ियां बिना नम्बर की हैं, उस पर कार्यवाही करें। उन्होने कहा कि इण्ट्री प्वाइंट पर प्रत्येक गाड़ियों की इस प्रकार वीडियोग्राफी करायें कि गाड़ी का नम्बर भी दर्शित हो। उन्होने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने संबंधित विधान सभा क्षेत्र के मतदेय स्थलों पर न्यूनतम आधारभूत सुविधाओं में बिजली, पानी, शौचालय, फर्नीचर, रैम्प आदि की व्यवस्था जल्द से जल्द पूर्ण करा लें।
उन्होने मुख्य राजस्व अधिकारी को निर्देशित किया कि एफएसटी, एसएसटी की टीमों के लिए जो गाड़ियां उपलब्ध करायी गयी हैं, उन वाहनों में जीपीआरएस लगा हुआ है, उसकी ट्रैकिंग करें, जिन वाहनों को मूवमेंट नही हो रहा है, उसकी सूची बनाकर रिपोर्ट उपलब्ध करायें।
व्यय प्रेक्षक अभय कुमार सिंह ने मुख्य कोषाधिकारी से कहा कि अभी जो पूर्व में रैली हुई है, उसका अभी तक हिसाब नही आया है, उसे जल्द से जल्द उपलब्ध करायें। उन्होने मुख्य कोषाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी वीडियो सर्विलांस टीम से बात करें और जहां भी रैली हो उसकी वास्तविक वीडियोग्राफी करायें तथा उसकी मानिटरिंग करें, और सही चीजों को ही रिकार्ड करें, रिकार्ड करने के उपरान्त रिपोर्ट उपलब्ध करायंे। इसी के साथ ही उन्होने कहा कि रेट लिस्ट का विजीट कर लें। आगे उन्होने कहा कि बैंकों से जहां जमा निकासी 10 लाख रू0 से ज्यादा हो रही है, उसकी रिपोर्ट से प्राप्त करें तथा आयकर विभाग को सूचित करें तथा 10 लाख से नीचे की जमा तथा निकासी कर रिपोर्ट व्यय प्रेक्षक को उपलब्ध करायें।
जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी ने बताया कि एमसीसी के क्रियान्वयन हेतु एफएसटी, एसएसटी, वीएसटी, वीवीटी टीमें बनायी गयी हैं। उन्होने समस्त एसडीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने संबंधित विधान सभा क्षेत्रों में जहां कहीं भी रैली होगी, उस रैली में उप जिलाधिकारी स्वयं जायेंगे तथा एमसीसी में लगे हुए टीमों की मानिटरिंग करेंगे तथा स्वयं भी निगरानी करेंगे तथा उसकी रिपोर्ट मुख्य कोषाधिकारी को उपलब्ध करायेंगे।
उन्होने समस्त एसडीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि कोई भी वाहन बिना परमिशन के चलता है तो उसे सीज करें तथा जिस गाड़ी पर झण्डा, बैनर, पोस्टर लगा हो तथा उस वाहन द्वारा प्रचार वाहन के रूप में परमिशन नही लिया गया है, तो उसे सीज करें। यदि कहीं भी आपके विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत एमसीसी का उल्लंघन होता है तो यदि संबंधित एसडीएम द्वारा कार्यवाही नही की जाती है तो संबंधित एसडीएम पर सीधे कार्यवाही की जायेगी। टोल फ्री नम्बर 1050 तथा सी-विजील ऐप को सक्रिय रखें।
इस अवसर पर मुख्य राजस्व अधिकारी हरी शंकर, एडीएमई नरेन्द्र सिंह, एडीएम एफआर गुरू प्रसाद, एसपी ग्रामीण एनपी सिंह, मुख्य कोषाधिकारी विजय शंकर, समस्त एसडीएम, डीआईओ डाॅ0 जितेन्द्र प्रताप सिंह सहित समस्त नोडल/प्रभारी/सहायक प्रभारी अधिकारी उपस्थित रहे। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment