.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: सीएमओ डा. एके मिश्र ने स्वास्थ्य केंद्र बरदह का निरीक्षण किया,खुली पोल

टूटी हुई स्टेचर और लाइट के आभाव में बंद पड़ी एक्सरे मशीन स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत बयां कर रही थी

आजमगढ़। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एके मिश्र ने मंगलवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बरदह का निरीक्षण किया तो व्यवस्था की पोल खुल गयी। टूटी हुई स्टेचर और लाइट के आभाव में बंद पड़ी एक्सरे मशीन स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत बयां कर रही थी। सीएमओं ने प्रभारी चिकित्साधिकारी को तत्काल स्टेचर की मरम्मत कराने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने अश्वासन दिया कि जल्द ही अस्पताल के लिए जनरेटर की व्यवस्था करेंगे। 
सीएमओ डा. एके मिश्र पूर्वाह्न करीब 11.30 बजे सीएचसी पहुंचे। मौके पर सभी डाक्टर मौजूद पाए गए। ओपीडी में 79 मरीज देखे गए थे। सीएमओ ने सबसे पहले स्टोर रूम का निरीक्षण किया यहां दवाओं का रख रखाव ठीक पाया गया। इसी दौरान कुछ मरीजों ने दवा बाहर से लिखने की शिकायत की। इस पर उन्होंने कई मरीजों का पर्चा देखा। पता चला कि जो दवाये अस्पताल में मौजूद थी उन्ही को पर्चे पर लिखा गया था। इसके बाद वे एक्सरे रूम पहुंचे। वहां लोगों ने बताया कि बिजली कटने के बाद एक्सरे बंद रहता है। इसपर उन्होंने आश्वासन दिया कि जल्द ही अस्पताल में जनरेटर की व्यवस्था हो जाएगी। इसके बाद वे प्रसव कक्ष में गए।
वहां पानी नहीं था। पूछने पर पता चला कि पानी से अस्पताल के कर्मचारी सब्जी आदि की सिंचाई कर डालते है। इसके बाद सीएमओ ने अस्पताल के पानी का दुरूपयोग न करने की हिदायत दी। यहां स्टेचर भी टूटा मिला। कर्मचारियों ने बताया कि कई बार प्रभारी चिकित्साधिकारी से इसकी मरम्मत के लिए कहा गया लेकिन उन्होंने बात नहीं सुनी। इसपर सीएमओ ने प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देष दिया कि तत्काल स्टेचर की मरम्मत कराएं। चिकित्सकों की कमी पर उन्होंने कहा कि जिले में 320 चिकित्सकों का पद स्वीकृत है लेकिन वर्तमान में उनके पास केवल 170 डाक्टर है। ऐसे में जितने चिकित्सक उपलब्ध हैं उन्हीं से काम चलाया जा रहा है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment