.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

,

,
.

अखिलेश ने अपनी दूरदर्शिता के बूते गठबंधन कर परिवर्तन का एक नया माहौल बनाया-अहमद हसन


सपा मुखिया अखिलेश के केंद्रीय चुनाव कार्यालय का नेता प्रतिपक्ष (विधान परिषद) अहमद हसन ने किया उद्घाटन 

यह महागठबंधन वाराणसी से मोदी को भी हराकर गुजरात भेजने का काम करेगा- हवलदार यादव 

आजमगढ़ : नेता प्रतिपक्ष (विधान परिषद) अहमद हसन ने कहा कि समाजवादी पार्टी का यह गठबंधन नामुमकिन था, लेकिन अखिलेश यादव ने अपनी राजनीतिक दूरदर्शिता के बूते मायावती और अजित सिंह से गठबंधन कर देश के अंदर परिवर्तन का एक नया माहौल बनाया है। देश से भाजपा का सफाया होगा।
श्री हसन सोमवार को हरवंशपुर में सपा मुखिया के केंद्रीय कार्यालय के उद्घाटन अवसर पर पत्र-प्रतिनिधियों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आजमगढ़ समाजवाद और समाजवादियों की धरती रही है, इसलिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजमगढ़ को चुनाव लड़ने के लिए चुना है। केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि मोदी गुजरात में मेट्रो ट्रेन नहीं चला पाए, लेकिन अखिलेश यादव की सरकार ने उत्तर प्रदेश में मेट्रो ट्रेन चलाई, 22 महीने में 300 किमी एक्सप्रेस-वे बनवाई। एक बार फिर उन्होंने दोहराया कि आज जो कुछ बदला हुआ आजमगढ़ दिख रहा है, वह सपा की देन है। केंद्र सरकार को निशाना पर लेते हुए कहा कि विकास की एक ईट भी नहीं रखी गई। 66 बेगुनाहों का एनकाउंटर सभी को याद है। मोदी ने कहा था कि अच्छे दिन आएंगे लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। किसानों के साथ धोखा किया गया। गन्ना किसानों का करोड़ों रुपये बकाया है। प्रधानमंत्री ने कहा था कि विदेश से काला धन लाएंगे, लेकिन वे ला तो नहीं सके बल्कि देश का सफेद धन विदेश चला गया। इसका उदाहरण नीरव मोदी समेत कई हैं। राफेल घोटाला भी इसी सरकार की देन है। कहा कि यह सरकार भ्रष्टाचार के लिए जानी जाएगी। जनता ऊबन महसूस कर रही है। देश से भाजपा का सफाया हो जाएगा। गठबंधन से ही कोई प्रधानमंत्री बनेगा। अखिलेश यादव के खिलाफ भाजपा प्रत्याशी भोजपुरी कलाकार दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' के चुनाव लड़ने पर हंसकर कहा कि पूर्वी उत्तर प्रदेश में भाजपा चुनाव नहीं लड़ रही बल्कि मजाक कर रही है। कहा कि यह सरकार 68 हजार शिक्षकों की भर्ती दो साल में नहीं कर सकी। 50 हजार किसानों ने आत्महत्या की है, जो भाजपा कि निष्क्रियता साबित करती है। रामपुर से भाजपा प्रत्याशी जयप्रदा के खिलाफ आजम खां के दिए गए बयान को टाल गए। सिर्फ इतना कहाकि वह बड़े नेता हैं, उन पर टिप्पणी उचित नहीं होगी। उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता कर रहे सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि अब वह भाजपा नहीं रही जिसे अटलबिहारी बाजपेई चलाया करते थे। आडवानी के सिद्धांतों वाली भाजपा भी नहीं रही। आडवानी ने इन दोनों ठगों को नसीहत भी दी थी कि विरोधी दलों के लोगों को दुश्मन न समझा जाय। बावजूद इसके यह दोनों राजनैतिक विरोधियों को अपना दुश्मन मानकर किसी भी तरह कुचल देना चाहते हैं। श्री यादव ने कहा कि सपा-बसपा के इस महागठबंधन से भाजपा के लोग बौखलाये हुए हैं। यूपी में चुनाव लड़ने के लिए इनको प्रत्याशी ही नहीं मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस महागठबंधन की जो आंधी चल रही है, उससे यह लग रहा है कि भाजपा को यूपी में एक भी सीट नसीब होने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि यह महागठबंधन वाराणसी से मोदी को भी हराकर गुजरात भेजने का काम करेगा।इस मौके पर सपा के राष्ट्रीय महासचिव बलराम यादव, पूर्व मंत्री व विधायक दुर्गा प्रसाद यादव, विधायक डा. संग्राम यादव, सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव सहित पार्टी के अन्य जनप्रतिनिधि व कार्यकर्ता थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment