.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : निजी विद्यालयों में अनियमितता व अवैध फीस वसूली के संबंध में डीएम को ज्ञापन सौंपा


अखिल भा0 विद्यार्थी परिषद ने 14 सूत्रीय ज्ञापन सौंप निजी विद्यालयों की अवैध वसूली पर रोक की मांग की 

आजमगढ़ : शिक्षा किसी भी राष्ट्र के निर्माण की बुनियाद होती है। अतः राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया को प्रभावी बनाने के लिए शिक्षा सुलभता सस्ती होनी चाहिए। वर्तमान समय में निजी विद्यालय समाज के लोगों से शिक्षा के नाम पर धन उगाही का कार्य कर रहे हैं, जिसके खिलाफ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद पूरे प्रदेश में प्रबल विरोध कर रहा है। इसी क्रम में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद आजमगढ़ के कार्यकर्ताओं द्वारा जिलाधिकारी को शिक्षा व्यवस्था को सुगम व स्वच्छ बनाने के लिए ज्ञापन सौंपा गया।इस दौरान प्रांत सहमंत्री आकाश गौड़ 'गीत' ने बताया कि पूरे जिले में आज शिक्षा व्यवस्था अत्यंत जर्जर हो गई है, जिसमें सुधार की अत्यंत आवश्यकता है।
जिला संगठन मंत्री आदित्य द्विवेदी ने बताया कि जिस प्रकार जिले की शिक्षा व्यवस्था जर्जर है, अगर ऐसा ही चलता रहा तो हमारे देश का भविष्य सही शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाएगा। इस गंभीर समस्या को देखते हुए विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा जिलाधिकारी को 14 सूत्री ज्ञापन सौंपा गया और यह मांग किया गया कि जिले में हो रहे अवैध वसूली पर तत्काल रोक लगाकर प्रभावी कार्यवाही की जाये।
जिला संयोजक कृशानु गिरी ने चेतावनी देते हुए कहा कि 1 सप्ताह के भीतर हमारी मांगों को पूर्ण कर बेहतर शिक्षा की व्यवस्था सुनिश्चित करें अन्यथा विद्यार्थी परिषद उग्र आंदोलन को बाध्य होगा। इस अवसर पर बादल सिंह, डॉ रवि सिंह, साकेत श्रीवास्तव, अमन सिंह ऋषभ सिंह, शिवम श्रीवास्तव, आनंद यादव, सुधांशु ओझा, निलांबुज राय, अवनीश, शुभम गुप्ता, रमापति, प्रियम मिश्रा, सूरज मिश्रा, गोपी सिंह, सिद्धार्थ समेत सैकड़ों कार्यकर्ता वह छात्र मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment