.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : कैदियों के दो गुटों में जमकर मारपीट से जेल में तनाव,हंगामा जारी प्रशासन सक्रिय


आजमगढ़ : जिला जेल में कैदियों के दो गुटों में जमकर मारपीट का मामला सामने आया है। जिला जेल के बैरक नंबर पांच में शुक्रवार की रात बिस्तर बिछाने को लेकर विनय पांडेय और अतहर के बीच हुई मारपीट में विनय पांडेय नामक बंदी घायल हो गया। उसका जेल के अस्पताल में इलाज चल रहा है।  इसके बाद से ही अतहर अपने बिरादरी के लोगों को एकजुट करने लगा जिससे जेल में मामला दो वर्गों का बनने लगा । शनिवार को इसकी जानकारी होने पर एडीएम प्रशासन नरेंद्र सिंह के नेतृत्व में एसपीसिटी कमलेश बहादुर कई थानों की फोर्स लेकर पहुंचे और सर्च आपरेशन कर  कुछ  मोबाइल भी बरामद किया। साथ ही गोलबंद बंदियों के खिलाफ केस दर्ज कराने का निर्देश दिया। शाम करीब सवा पांच बजे सभी अधिकारी चले गए। बताया जा रहा है उनके जाते ही बंदी फिर आपस में भिड़ गए।  इस दौरान बीच बचाव करने पहुंचे कई बंदी रक्षकों को मारपीटकर घायल कर दिया गया । कहा तो यह भी जा रहा है की बंदियों में दहशत फैलाने के लिए पुलिस की तरफ से जेल के भीतर कई राऊंच गोलियां चलाई गई और आंसू गैस के गोले दागे गए लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है । हालात को देखते हुए शाम तक मौके पर पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी सहित भारी संख्या में पुलिस, पीएसी, क्यूआरटी टीम आदि जेल के भीतर हालात को नियंत्रण में करने में लगे हुए थे।
घायल बंदी विनय पांडेय आजमगढ़ के अहरौला थाना क्षेत्र के गहजी गांव का निवासी है। जबकि अतहर सरायमीर कस्बे का रहने वाला है। यह दोनों बैरक नंबर पांच में बंद हैं। शुक्रवार की शाम इन दोनों के बीच बिस्तर बिछाने को लेकर मारपीट हुई थी। मामला दो वर्ग के बंदियों का होने की वजह से जेल में तनाव उत्पन्न हो गया।
बंदी एक दूसरे के पक्ष में लामबंद होने लगे थे , शनिवार को इसकी जानकारी होने पर अधिकारी भारी संख्या में पुलिस फोर्स लेकर जेल में गए और सर्च आपरेशन कर मोबाइलें बरामद किया। एडीएम प्रशासन ने अतहर सहित उसके दोस्तों के खिलाफ केस दर्ज कराने का निर्देश जेल प्रशासन को दिया।
शाम करीब 5.15 बजे अधिकारी जेल से बाहर चले गए। बताया जा रहा है की उनके जाते ही बंदी आपस में फिर से भिड़ गए। जेल के भीतर बंदियों में मारपीट होने की सूचना पर तत्काल क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम पहुंची और दहशत फैलाने के लिए जेल परिसर में ताबड़तोड़ दो राउंड फायरिंग भी की। बताया जा रहा है की गोली चलने से बंदी और भड़क गए और कई बंदी रक्षकों को बंधक बना लिया। हालात काबू में करने के लिए पुलिस द्वारा कई राउंड आंसू गैस के गोले छोडऩे की भी सूचना है । देर शाम से लेकर रात्रि का प्रथम पहर शुरू हो गया लेकिन हालात नियंत्रण में नहीं आये है। भारी पुलिस बल के अलावा  अन्य सुरक्षा बल की टीम भी जेल के अंदर घुसने को प्रयासरत है।   

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment