.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : भाजपा में बढ़ी सरगर्मी ! रमाकांत यादव को फिर दिल्ली बुलाया गया


कोई इसे टिकट की नजर से देख रहा है तो कोई उनके अलावा लालगंज से दरोगा सरोज को भी बुलाये जाने से असंतुस्टों को मनाने की कवायद समझ रहा है 

आजमगढ़: आजमगढ़ लोकसभा सीट से भाजपा के प्रत्याशी को लेकर पिछले दिनों से अटकलों का बाजार कभी गर्म कभी ठंडा होता रहा है। पहले पूर्व सांसद रमाकांत यादव जहाँ दावेदार मांने जा रहे थे वहीँ सूत्रों की माने उनकी दावेदारी पर प्रदेश के मुखयमंत्री योगी ने अचानक भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ को भाजपा ज्वाइन करा कर ग्रहण लगा दिया था। दिनेश लाल के भाजपा से जुड़ते ही उनके आजमगढ़ से सपा मुखिया के खिलाफ चुनाव लड़ने की संभावनाएं प्रबल होती जा रही थी। पर अभी भी पार्टी ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं। शनिवार को ताजा घटना क्रम में पार्टी द्वारा अचानक रमाकांत यादव को वापस दिल्ली बुलाया गया है। जिससे एक बार फिर रमाकांत समर्थकों की बेचैनी बढ़ गई है। बताया जा रहा है की रमाकांत यादव को टिकट न देने की जिद पर अड़े यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को मना लिया गया है । तभी सीएम की नाराजगी दूर होने के बाद अब रमाकांत यादव को पार्टी नेतृत्व ने दिल्ली बुला लिया है। रमाकांत दिल्ली के लिए रवाना हो गये है। खुद रमाकांत यादव ने स्वीकार किया है कि सबकुछ सकारात्मक है वे देर शाम तक दिल्ली पहुंच जाएंगे। इन हालत में रमाकांत को अगर टिकट मिलता है तो फिल्म स्टार दिनेश लाल निरहुआ के आजमगढ़ से चुनाव लड़ने के सपने पर पानी फिर जाएगा। वैसे बताया जा रहा है की रमाकांत यादव के अलावा लालगंज भाजपा के दरोगा प्रसाद सरोज भी दिल्ली बुलाये गए हैं , ऐसे में कुछ लोग इसे टिकट से न जोड़ कर केवल रूठों को मनाने की कोशिश भी बता रहे हैं।
बता दें कि आजमगढ़ सीट की गिनती यूपी की वीआईपी सीटों में होती है। मुलायम सिंह यादव यहां से सांसद है। सपा यहां मुलायम सिंह के दबदबे को कायम रखने के लिए जद्दोजहद कर रही है। कारण कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में यही एक सीट थी जहां सपा जीत हासिल करने में सफल रही थी नहीं पूर्वांचल में सपा बसपा का सूपड़ा साफ हो गया है। वहीं बीजेपी को केवल एक सीट पर हार मिली थी। इसलिए बीजेपी भी किसी भी हालत में यह सीट जीतना चाहती है। मुलायम सिंह यादव की विरासत को संभालने के लिए यहां से अखिलेश यादव ने खुद चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। अब बीजेपी को उनके मुकाबले मजबूत प्रत्याशी की तलाश है। भाजपा के बाहुबली रमाकांत यादव ने पिछले चुनाव में मुलायम सिंह यादव को कड़ी टक्कर दी थी। बीजेपी इस बार भी उन्हें मैदान में उतारना चाह रही है लेकिन सीएम योगी आदित्यनाथ ने रमाकांत यादव द्वारा उनके और बड़े नेताओं के खिलाफ कुछ मौकों पर की गई बयानबाजी को लेकर टिकट का विरोध कर दिया था। साथ ही उन्होंने फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ को पार्टी ज्वाइन करा ली थी।
चर्चा जोरों पर थी कि निरहुआ ही अखिलेश के खिलाफ बीजेपी से मैदान में उतरेंगे । योगी के विरोध के बाद बाहुबली भी निराश हो गए थे और तीन दिन पूर्व ही वे दिल्ली से आजमगढ़ लौट आए थे। इसी बीच शनिवार को खबर आई कि योगी को मना लिया गया है और रमाकांत यादव दिल्ली बुला लिए गए है। पूर्वांह्न करीब 11 बजे रमाकांत यादव दिल्ली के लिए रवाना भी हो गए है। सूत्रों की माने तो योगी के मानने के बाद अब पार्टी रमाकांत यादव को प्रत्याशी बनाने जा रही है। रमाकांत के दिल्ली पहुंचने के बाद टिकट की घोषणा की जाएगी। रमाकांत यादव ने फोन पर हुई बातचीत में कहा कि सबकुछ सकारात्मक है और वे दिल्ली के लिए निकल चुके हैं। देर शाम तक वे दिल्ली पहुंच जाएंगे। उम्मीद है कि प्रत्याशी वही होंगे। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment