.

.

.

.

,

,
.

आजमगढ़::रोगी के अनुकूल गुणवत्ता में लाइफ लाइन हॉस्पिटल को उत्तर भारत में एएचपीआई पुरस्कार


यह पुरस्कार सिर्फ पूर्वांचल की जनता के विश्वास एवम आशीर्वाद का परिणाम है- डॉ अनूप सिंह यादव 

ह्रदय रोग विभाग, क्रिटिकल केयर तथा न्यूरो सर्जरी विभाग में कुछ नए आयाम जुड़े हैं- डॉ पियूष 

आजमगढ़। करेगा इंडिया तो आगे बढ़ेगा इंडिया मूल मंत्र के तहत प्रतिष्ठित न्यूरो सृजन डॉ अनूप सिंह यादव के नेतृत्व में नित्य नए आयाम हासिल कर रहे लाइफ लाइन हॉस्पिटल ने राष्ट्रिय स्तर पर एक नयी कामयाबी हासिल की है। जिसमें स्वास्थ्य सेवन में राष्ट्रीय स्तर पर मानक निर्धारित करने वाली संस्था एएचपीआई (एसोसिएशन ऑफ हेल्थकेयर प्रोवीडर इंडिया ) ने भी लाइफ लाइन हॉस्पिटल आजमगढ़ को प्रदेश में पेशेंट फ्रेंडली केटेगरी में उत्तर भारत जोन में सर्वश्रेष्ठ चयनित किया। गौरतलब है की एएचपीआई भारत की ऐसी संस्था है जो स्वास्थ्य क्षेत्र में गुणवत्ता के मानकों का निर्धारण एवं अध्ययन करती है । संस्था सात विभिन्न वर्गों में हर साल यह मानक पुरस्कार देती है।  यह अवार्ड पूरे देश को को 4 जोन में बाँट कर दिया जाता है (ईस्ट,वेस्ट,नॉर्थ, साउथ) और इस वर्ष पेशेंट फ्रेंडली कैटेगरी (रोगी के अनुकूल ) का पुरस्कार नॉर्थ इंडिया में लाइफ लाइन हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर को 15 फरवरी 2019 को दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में आयोजित राष्ट्रीय कार्यक्रम में पदही राज्य मंत्री भारत सरकार जनरल वी के सिंह के हाथों से मिला । यह पुरस्कार पूर्वांचल के बढ़ते हुए स्वास्थ्य सुविधाओं के स्तर की पहचान बढ़ाते हैं और सम्मान भी देते हैं । इस अवसर पर डॉ अनूप कुमार सिंह ने कहा कि यह पुरस्कार अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ द्वारा मरीजों की देखरेख ,सुरक्षा , मरीज एवम उनके परिजनों को दी जा रही सुविधाओं, चिकित्सा के स्तर, सामाजिक क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों के अध्ययन द्वारा निर्धारित किया जाता है। इस अवसर पर डॉ गायत्री ने बताया कि यह पुरस्कार सिर्फ और सिर्फ पूर्वांचल की जनता के विश्वास, साथ एवम आशीर्वाद का परिणाम है । इस अवसर पर डॉ पीयूष कुमार सिंह ने बताया कि लाइफ लाइन हॉस्पिटल के ह्रदय रोग विभाग, क्रिटिकल केयर तथा न्यूरो सर्जरी विभाग में कुछ नए आयाम जुड़े हैं। लाइफ लाइन हॉस्पिटल न्यूरो सर्जरी में रिसर्च को भी बढ़ावा देने जा रहा है। साथ ही हम इमरजेंसी सर्विसेस को और ज्यादा मजबूत कर रहे हैं। उन्होंने कहा की लाइफ लाइन परिवार जनता से मिले इस विश्वास के लिए सदा आभारी होगा।
आगे बताया की गंभीर मरीजों की इलाज के प्रति लाइफलाइन हॉस्पिटल ने नये स्वरुप में क्रटिकल केयर विभाग एवम कार्डियोलॉजी विभग प्रारम्भ किया है। न्यूरोसजेर्री विभाग में मरीजो की बेहतर सुविधाएं देने के लिए वर्तमान में तीन वरिष्ठ सृजन डॉक्टर का पैनल कार्यरत है जिसमे डॉक्टर अनूप कुमार सिंह ,डॉक्टर नरेश कृष्णानी ,डॉक्टर कुणाल शामिल है। इसी के साथ लाइफलाइन हॉस्पिटल कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट में एंजियोग्राफी एवम एंजियोप्लास्टी छोड़ कर डॉक्टर राम चंद्र देसाई के नेतृवत्र में अन्य सभी सुविधाओं की शुरूवात कर दिया है। लाइफलाइन हॉस्पिटल में इको,टीएमटी ,कार्डियक मार्कर टेस्ट ,के साथ ही साथ हर तरीके के इमरजेंसी कार्डिक का उपचार अब सम्भव होगा । क्रिटिकल केयर डिपार्टमेंट में डॉ गायत्री के साथ ही साथ दो अन्य डॉक्टरों की टीम की सलाह पर उच्च स्तरीय सुविधाओं की शुरूवात की गई है ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment