.

.

.

.

,

,
.

आज़मगढ़ : मण्डलायुक्त ने किया राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के समस्त कार्यक्रमों की समीक्षा

कई कार्यक्रमों की प्रगति पाई गई असन्तोषजनक, सीएमओ बलिया अनुपस्थित रहे मांगा स्पष्टीकरण

आज़मगढ़ 26 फरवरी -- मण्डलायुक्त जगत राज ने राष्ट्रीय स्वाथ्य मिशन के अन्तर्गत संचालित कार्यक्रमों की बिन्दुवार समीक्षा के दौरान संस्थागत प्रसव, टीकाकरण, हेल्थ वेलनेस सेन्टर, आयुष्मान भारत, आरबीएसके की टीम के द्वारा भ्रमण, आन्धता निवारण, टीबी आदि कार्यक्रमों की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति पर गहरा असन्तोष व्यक्त करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को चेतावनी निर्गत करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही बैठक से मुख्य चिकत्साधिकारी बलिया के अनुपस्थित रहने पर उनका स्पष्टीकरण प्राप्त करने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त ने मंगलवार को अपने कार्यालय के सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान तीनों जनपदों में आशाओं के भुगतान की स्थिति भी सन्तोषजनक नहीं पाई, इस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल भुगतान का निर्देश दिया।
मण्डलायुक्त जगत राज ने समीक्षा के दौरान कहा कि शासन द्वारा मरीजों के उपचार, रहने भोजन आदि की व्यवस्था हेतु पर्याप्त धनराशि उपलब्ध कराई जाती है, इसके बावजूद सरकारी अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या कम मिलने से स्पष्ट होता है कि मरीजों को पर्याप्त सुविधाये उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। उन्होंने अपर निदेशक, स्वास्थ्य के साथ ही सभी सीएमओ, सीएमएस एवं डिप्टी सीएमओ को इस ओर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया। उन्होंने प्रधानमन्त्री मातृृत्व वनदन योजना की समीक्षा में पाया कि बलिया में साक्षात्कार हो चुका है परन्तु अभी तक कार्य प्रारम्भ नहीं हुआ है, जबकि आज़मगढ़ एवं मऊ में इस योजना के तहत कोई विशेष प्रगति नहीं हुई है। तीनों जनपद में इस योजना की प्रगति पर भी उन्होंने असन्तोष व्यक्त किया। परिवार नियोजन कार्यक्रम में जनपद बलिया में गत वर्ष के सापेक्ष उपलब्धि कम पाई गयी, जबकि मऊ में अनटाइड फण्ड की धनराशि कम खर्च होने पर उन्होंने तत्काल इस ओर ध्यान दिये जाने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त ने आयुष्मान भारत की प्रगति की समीक्षा के दौरान पाया कि आज़मगढ़ में 8555, बलिया 49590 एवं मऊ में 340 गोल्डेन कार्ड वितरित किये गये हैं तथा इस कार्यक्रम के तहत अब तक आज़मगढ़ में 254 मरीज, बलिया में 165 एवं मऊ में 17 मरीज भती हुए हैं। उन्होंने आज़मगढ़ एवं मऊ में गोल्डेन कार्ड कम वितरित किये जाने तथा बलिया में मरीजों के कम भर्ती होने पर भी असन्तोष व्यक्त करते हुए इस योजना से अधिक से अधिक पात्रों को लाभान्वित करने का निर्देश दिया।
बैठक में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के परियोजना प्रबन्धक अरविन्द कुमार श्रीवास्तव द्वारा प्रोजेक्टर के माध्यम से कार्यक्रमों की बिन्दुवार भौतिक एवं वित्तीय स्थिति से अवगत कराया गया। इस अवसर पर अपर आयुक्त (प्रशासन) धर्मेन्द्र सिंह, अपर निदेशक स्वास्थ्य डा. एनएल यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी मऊ डा. एससी सिंह, प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी आज़मगढ़ डी.बीके अग्रवाल, तीनों जनपद के पुरुष एवं महिला अस्पताल के अधीक्षक, सभी डीपीएम, डीएएम, डीसीपीएम सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment