.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

मार्टिनगंज:सियासी दांव! अविश्वास प्रस्ताव से पहले प्रमुख ठाकुर मनोज का इस्तीफ़,रद्द हुई बैठक

अनर्गल कार्य का दबाव बना रहे माफिया लगातार कर रहे थे प्रताड़ित -ठाकुर मनोज सिंह, निवर्तमान प्रमुख ,मार्टिनगंज   

आजमगढ़ : नाटकीय घटनाक्रम में जिले की अंदरूनी राजनीति में एक नया मोड़ आ गया जब मार्टीनगंज ब्लाक प्रमुख ठाकुर मनोज सिंह अपने खिलाफ लाये गए अविश्वास प्रस्ताव से दो दिन पहले ही अचानक जिला मुख्यालय पंहुच ब्लॉक प्रमुख के पद से त्यागपत्र दे दिया। इससे जहाँ 24  दिसंबर को प्रस्तावित अविश्वास प्रस्ताव के बहुमत परीक्षण का मामला समाप्त हो गया, वहीँ उक्त पद पर दुबारा चुनाव कराना होगा जो की फिलहाल सम्भव नहीं नजर आ रहा है। जानकार इसे ठाकुर मनोज सिंह द्वारा खेला गया सियासी दांव बता रहा हैं।  गौर तलब है की कुछ दिनों पूर्व ही मार्टिनगंज ब्लॉक के बीडीसी सदस्यों ने प्रमुख ठाकुर मनोज सिंह के खिलाफ जिलाधिकारी को पत्र सौंप अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने की मांग की थी। जहाँ से निर्देश जारी होने के बाद 24 दिसंबर को ब्लाक में अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक होनी थी। उसके दो दिन पहले ही सियासी दांव चलते हुए ब्लाक प्रमुख ठाकुर मनोज सिंह नेहरू हाल स्थित अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत कार्यालय पहुंचे और अपना इस्तीफा दे दिया जिसे जिला पंचायत अध्यक्ष मीरा यादव ने मंजूर कर लिया। उधर, जिला पंचायत राज अधिकारी आनंद प्रकाश श्रीवास्तव ने इस्तीफा मंजूर होने जाने के बाद अविश्वास प्रस्ताव पर होने वाली बैठक को न्याय संगत न बताते हुए निरस्त कर दिया। इस्तीफ़ा देने के बाद ठाकुर मनोज ने मीडिया से बताया की माफियाओं के दबाव में मुझे ऐसा करना पड़ा, ये लोग मुझसे ब्लॉक में अनर्गल कार्य कराना चाहते थे जिसके लिए दिन रात मुझे तमाम तरह से प्रताड़ित किया जाने लगा और रोज मुझे और मेरे परिवार को धमकियां मिल रही थी क्षेत्र में हमारा घूमना भी मुश्किल हो गया था।  क्योंकि हमने दबंगों को चुनाव में हराया था और उसके बाद से ही मैंने हमेशा दलित,पिछड़ों और निर्बल वर्ग को ब्लॉक की गतिविधियों में प्राथमिकता दी , तभी से मेरे खिलाफ साजिश होने लगी, रोज की धमकियों और मेरे ऊपर अनर्गल कार्य न कराने के कारण फ़र्ज़ी मुकदमें भी  डलवा दिए गए। उन्होंने दावा किया की जिन्हे मै जानता नहीं था वैसे लोगों के नाम से भी मेरे खिलाफ मुक़दमे दर्ज हुए , जिससे मै और मेरा परिवार काफी परेशान थे । बहुमत न होने के सवाल पर ठाकुर मनोज ने कहा की आज जिलाधिकारी कुछ मौका दे दें तो मैं वांछित संख्या में बीडीसी ला कर खड़े कर देता। पर मेरी अनुपस्थिति में पिछड़े व दलित वर्ग के सदस्यों को दबाव में ले कर यह सब किया गया है । बहरहाल लगातार हो रहे मानसिक उत्पीड़न से त्रस्त हो हमने त्यागपत्र दिया है। वहीँ उन्होंने कहा की मुझे मेरे ब्लॉक से सम्बन्धित नागरिकों ,कर्मचारियों , अधिकारीयों व प्रशासन का भरपूर सहयोग मिला जिसका आभारी हूँ।
वहीँ प्रमुख के इस्तीफे के मंजूर होने की प्रक्रिया के बाद जिला पंचायत राज अधिकारी ने शनिवार को उप जिलाधिकारी मार्टीनगंज को भेजे गए पत्र में अवगत कराया कि ब्लाक प्रमुख ठाकुर मनोज सिंह के खिलाफ कतिपय आरोपों का उल्लेख करते हुए क्षेत्र पंचायत मार्टीनगंज के दो तिहाई से अधिक पंचायत सदस्यों द्वारा हस्ताक्षरित अविश्वास प्रस्ताव 28 नवंबर को जिलाधिकारी को प्रस्तुत किया था। उस पर विचार करते हुए अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक की कार्रवाई 24 दिसंबर को दिन में 12 बजे एसडीएम सदर की अध्यक्षता में बुलाई गई थी। अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत ए के सिंह ने बताया कि ब्लाक प्रमुख द्वारा दिए गए इस्तीफे को जिला पंचायत अध्यक्ष ने स्वीकृत कर लिया है । ऐसे में अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक की कार्रवाई की जानी विधि सम्मत नहीं है। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment