.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

शिकायत पर मिली अनियमितत्ता,जिलाधिकारी ने 02 कोटा दूकान किया निलंबित

आजमगढ़ : गरीबों में वितरित होने वाले खाद्यान्न व मिट्टी तेल की अनियमितता को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने फूलपुर व लालगंज तहसील क्षेत्र की कोटे की दो दुकानों को निलंबित कर दिया है। पिछले एक पखवारे के भीतर चार दुकानें निरस्त की गई। विभाग भी इसको लेकर सतर्क है। निलंबित दुकानों में फूलपुर तहसील के मार्टीनगंज विकास खंड की मुंहचुरा ग्राम पंचायत की कोटे की दुकान व लालगंज तहसील के पल्हना विकास खंड के कटाई ग्राम पंचायत की कोटे की दुकानें शामिल हैं। मुंहचुरा ग्राम पंचायत के कोटेदार सुरेंद्र कुमार हैं तो कटाई के कोटेदार सरोज देवी हैं। मुंहचुरा के लोगों ने बीते दिनों कोटेदार पर अनियमितता का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी कार्यालय व जिला पूर्ति अधिकारी देवमणि मिश्रा कार्यालय पर प्रदर्शन किया था। इसे गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने डीएसओ देवमणि मिश्रा से दुकान की जांच कराने का निर्देश दिया। डीएसओ ने पूर्ति निरीक्षक विजय कुमार साहनी से दुकान की जांच करवाई तो मिट्टी तेल वितरण व खाद्यान्न वितरण में तमाम अनियमितताएं मिलीं। ग्रामीणों का आरोप था कि कोटेदार एक माह छोड़कर राशन देता है। एक माह का राशन डकार जाता है। पूर्ति निरीक्षक ने जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंप दी। जिलाधिकारी ने तत्काल प्रभाव से कोटे की दुकान को निरस्त कर दिया। इसी प्रकार कटाई गांव के लोगों ने जिलाधिकारी व डीएसओ कार्यालय पर प्रदर्शन किया था। आरोप लगाया था कि कोटेदार खाद्यान्न वितरण व मिट्टी तेल में धनउगाही करता है। इसके अलावा समय पर खाद्यान्न वितरण नहीं करता है। पूर्ति निरीक्षक विकास ¨सह ने कोटे की दुकान की जांच की। जांच में अनियमितता उजागर होने पर अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत की। इस पर जिलाधिकारी ने इस दुकान को भी तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया। लगातार चार दुकानों के निरस्तीकरण की कार्रवाई से कोटेदारों में हड़कंप की स्थिति व्याप्त है। अभी तक कोटे की दुकानों को निलंबित किया जा रहा था लेकिन जिलाधिकारी के कड़े रुख की वजह से अब कोटे की दुकानों को अनियमितता मिलने पर सीधे निरस्त कर दिया जा रहा है। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment