.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

तरवा :: छेड़खानी का विरोध करने पर मनबढ़ों ने तीन बहनों की पिटाई कर दी

आजमगढ़ :: तरवा थाने के एक गांव में सोमवार को सुबह लगभग 10 बजे छेड़खानी का विरोध करने पर मनबढ़ युवकों ने तीन बहनों की जम कर पिटाई कर दी। बेटियों की पिटाई पर छुड़ाने आई मां को भी लाठी-डंडे से लैस युवकों ने पीट दिया। गंभीर रूप से घायल एक बहन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल प्रशासन ने अंदरूनी चोट आने पर युवती को महिला अस्पताल में मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया।
तरवा थाने के एक गांव निवासिनी महिला के पास तीन पुत्रियां हैं। एक बेटा सबसे छोटा है। आरोप है कि 19 वर्षीया पुत्री सोमवार को सुबह लगभग 10 बजे घर से निकल कर खेत की ओर जा रही थी। इस बीच गांव के मनबढ़ युवक छींटाकशी करते हुए छेड़खानी पर उतारू हो गए। जब इसका युवती ने विरोध करना शुरू किया,तो मनबढ़ उसे दौड़ा लिये। शोर सुन जब तक ग्रामीण बीच-बचाव करते ,तब तक मनबढ़ युवक लाठी-डंडे से लैस होकर युवती के घर पर चढ़ गए। युवती सहित उसकी 18 वर्षीया बहन और 30 वर्षीया बहन और उसकी मां को भी पीट दिया। 100 नंबर पर सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने घायलों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया,जहां से डाक्टर ने जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। गंभीर रूप से घायल एक युवती को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। युवती ने मंगलवार को अस्पताल के एसआईसी जीएल केशरवानी के यहां प्रार्थना पत्र दिया कि मनबढ़ों की मार से उसे अंदरूनी चोट आई है। इस पर एसआईसी ने युवती को मेडिकल परीक्षण के लिए महिला अस्पताल भेज दिया। वहीँ तरवा थानाध्यक्ष कृष्णमोहन सिंह ने कहा कि इस संबंध में थाने में अब तक किसी ने तहरीर नहीं दिया है। तहरीर मिलने पर जरूर कार्रवाई होगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment