.

.

.

.

.

.

.

.
.

मुबारकपुर पालिका का कम्प्यूटर कक्ष बंद ,अध्यक्ष व ईओ के बीच का विवा,पिसे रहे कस्बेवासी

लगभग दो सप्ताह से बंद पड़ा मुबारकपुर नगरपालिका का कम्प्यूटर कक्ष
प्रमाण पत्र व अन्य जरूरी कागज के लिए भटक रहे लोग, आला अधिकारी से हस्तक्षेप की मांग
मुबारकपुर: नगर पालिका अध्यक्ष, सभासद व ईओ के बीच तनी तलवार मे स्थानीय लोग पिसे जा रहे है। कारण जब से कम्प्यूटर आपरेटर रखने व हटाने को लेकर उत्पन्न विवाद मे कम्प्यूटर के सीपीयू, पेन डाईव आदि को ईओ द्वारा कक्ष मे बाहरी लोगों के बैठने को लेकर उसे उठाकर अपने कक्ष रखवाने के बाद पालिका अध्यक्ष सभासद व ईओ के बीच विवाद अभी बरकार है। जिसके कारण लोग को काफी दिक्कत उठानी पड रही है। नपा अधिशासी अधिकारी व पालिका अध्यक्ष के बीच बढी रार अभी थमने का नाम नही ले रहा है।इसके चलते नौवें दिन भी ईओ कार्यालय नही पहुंची। जिसके चलते लोग अपने-अपने कार्यो को लेकर परेशान दिख रही है। नपा कार्यालय में अधिशासी अधिकारी द्वारा कम्प्यूटर के सीपीयू व पेनड्राईव को कम्प्यूटर कक्ष मे बाहरी लड़के बैठने से आक्रोश में अपने कार्यालय मे रखने को लेकर पालिका अध्यक्ष व सभासदों ने किसी बडे राज को छिपाने के लिए आरोप मे उनके कक्ष मे ताला दिया था। तब से अब तक ईओ नपा कार्यालय नही पंहुची है। अधिशासी अधिकारी के कार्यालय में उपस्थित न रहने से नगरवासियों के पालिका सम्बन्धित कार्य परिवार रजिस्टर, निवास प्रमाण पत्र जैसे अन्य कार्यों में बाधित होने लगे हैं। बार-बार लोगों को अधिशासी अधिकारी की तलाश में पालिका का चक्कर लगाना पड़ रहा है। निराश होकर वापस ही लौटना पड़ता है। बतादे कि मुबारकपुर नगर पालिका अध्यक्ष व अधिशासी अधिकारी के बीच विवाद होने से नगरपालिका की जनता विभिन्न कार्यों को लेकर नगर पालिका कार्यालय का चक्कर लगा रहा है। पासपोर्ट बनने के लिए पुलिस सत्यापन प्रक्रिया में नगरपालिका द्वारा परिवार रजिस्टर की प्रमाणित प्रति व निवास प्रमाण पत्र की प्रमाणित प्रति का होना आवश्यक है जो कि नगरपालिका कार्यालय द्वारा ही जारी किया जाता हैं। अधिकारी की गैर मौजूदगी में यह कार्य काफी मुश्किल होता है जिसके लिए लोगों को बार बार पालिका का चक्कर काटना पड़ता है।इस सम्बन्ध मे सुलेमान रायनी,इरफान ,राहुल पाण्डेय ,राजेश आदि लोगो ने बताया कि कार्यालय से परिवार रजिस्टर से अन्य प्रमाण लेना मुश्किल हो गया है कारण कि कार्यलय मे ईओ के आने उन्हे प्रमाण के लिए कार्यालय का काटना पड रहा है। इस संबंध मे कोई भी अधिकारी कुछ बोलने कुछ तैयार नही.है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment