.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

सिपाही हत्याकांड का 24 घंटे में खुलासा ,शादी तय होने से नाराज प्रेमिका व परिजन निकले हत्यारे

आजमगढ़: अहरौला थाना क्षेत्र के शम्भूपुर दमदियवना गाँव में चंदौली में तैनात रहे सिपाही की गला रेत कर शनिवार को हत्या कर दी गयी थी । मामले का 24 घंटे में ही खुलासा करते हुए पुलिस ने उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया। घटना का खुलासा करते हुए एसपी आजमगढ़ अजय कुमार साहनी ने बताया कि सिपाही चंदौली जनपद में तैनात था और उसकी शादी कही और तय हो गयी थी जिससे लड़की व उसके परिज़न नाराज़ थे। प्रेमिका ने धोखे से सिपाही को बुलाया इसके बाद उसकी गला रेत कर हत्या कर दी गयी। मामले में पुलिस ने प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया है जबकि उसके पिता, भाई व अन्य तीन की तलाश के लिए दो टीमों का गठन कर दिया गया है। आजमगढ़ के अहिरौला थाना के शम्भूपुर दमदियावन गांव निवासी 27 वर्षीय संतोष यादव पुत्र हरिदास यादव वर्ष 2015 में उप्र पुलिस में सिपाही के लिए चयनित हुआ था। वर्तमान में उसकी पोस्टिंग चंदौली जनपद के चकिया थाना में थी। वह तीन दिन पूर्व ही छुट्टी लेकर घर आया था। घटना के सम्बन्ध में पता चला कि वह कल सुबह अपने दो मित्रों के साथ निकला लेकिन एक फोन कॉल आने के बाद मित्रों को इंतज़ार करने की बात कह कर खेत की तरफ निकल गया लेकिन फिर वापस नहीं लौटा। कई घंटे के इंतज़ार के बाद मित्र वापस लौटे। शाम को खोजबीन शुरू हुई तभी खेत में उसकी लाश मिलने की सूचना से सभी सन्न रह गए। मौके पर जा कर देखा गया तो किसी धारदार हथियार से संतोष का गला रेट कर मारा गया पाया। पुलिस को घटनास्थल से ही अंदाज़ लग गया था की घटना में एक से ज्यादा लोग शामिल होंगे। सूचना के बाद जहाँ परिज़नों में कोहराम मच गया वहीं पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आनन फानन में अपर पुलिस अधीक्षक नरेंद्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में पहुँची पुलिस ने छानबीन की। कॉल डिटेल रिपोर्ट निकाली गयी तो उसमे प्रेम संबंध की जानकारी मिली। संतोष का प्रेम सम्बन्ध पड़ोस के गाँव छितौना की ज्योति संग था। पहले तो ज्योति के परिज़न इस प्रेम सम्बन्ध के विरोध में थे। लेकिन मृतक की सिपाही में भर्ती के बाद राजी हो गए थे लेकिन अब संतोष के परिज़न कही और शादी तय कर दिए जिससे बदले की भावना में प्रेमिका व उसके पिता, भाई व अन्य रिश्तेदार सिपाही के क़त्ल की साजिश रच दिए और फिर प्रेमिका के फोन कर बुलाने पर संतोष जब मिलने पंहुचा तो उसके घरवालों ने धारदार हथियार से ह्त्या कर दी। पुलिस ने जब कॉल डिटेल खंगाला तो सब कुछ साफ़ हो गया कि प्रेमिका और उसके घर वाले ही दोषी हैं। पुलिस ने प्रकरण के अनवारण के दौरान निम्न सूचना प्रदान की -
पंजीकृत अभियोग
मु0अ0सं0 451/17 धारा 302/34/120ठ भा.द.वि., थाना-अहरौला।
गिरफ्तार अभियुक्त
(1) अभियुक्ता ज्योति यादव पुत्री रामकिशोर यादव, निवासी ग्राम छितौना, थाना-अहरौला जनपद आजमगढ़। प्रकाश में आये अभियुक्तगणः-
(2) अभियुक्त रामकिशोर यादव पुत्र स्व0 रामकुमार यादव,निवासी ग्राम छितौना, थाना-अहरौला जनपद आजमगढ़।
(3) सर्वेश यादव पुत्र रामकिशोर यादव, निवासी-ग्राम छितौना, थाना-अहरौला जनपद आजमगढ़।
(4) मनोज यादव पुत्र रूद्र प्रताप यादव, निवासी ग्राम छितौना, थाना-अहरौला जनपद आजमगढ़।
(5) संजय यादव पुत्र रूद्र प्रताप यादव, निवासी ग्राम छितौना, थाना-अहरौला जनपद आजमगढ़।
(6) आनन्द पुत्र रामआसरे, निवासी ग्राम छितौना, थाना-अहरौला जनपद आजमगढ़।
बरामदगी
1. एक अदद मोबाइल फोन अभियुक्ता का जिससे बात करती थी।
गिरफ्तार करने वाली टीम
(1) प्रभारी निरीक्षक चन्द्रभान यादव ,
(2) उ0नि0 रमाशंकर यादव,
(3) का0 महेन्द्र कुमार ,
(4) का0 अखिलेश पाण्डेय ,
(5) का0 ओमप्रकाश यादव,
(6) म0का0 अनीता मिश्रा


Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment