.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

जीयनपुर : संदिग्ध परिस्थितियों में अधेड़ तांत्रिक ने मित्र के घर लगाई फांसी, मचा कोहराम


पुलिस ने दरवाजा तोड़ कर शव को निकाला बाहर, पोस्टमार्टम के लिए भेजा 

सगडी/जीयनपुर। जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के गौरीशंकर नगर वार्ड नम्बर नौ अजमतगढ़ में मंगलवार की देर रात एक 45 वर्षीय अधेड़ ने घर मे पंखे के सहारे साड़ी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने कमरे का ताला तोड़कर शव को फंदे से नीचे उतारा और थाने लायी। मृतक और उसकी पत्नी एव बच्चे अलग अलग कमरे में मकान के ऊपरी तल पर सोये थे और रामायन का पूरा परिवार निचले तल पर सोया था। जानकारी के अनुसार शहर कोतवाली क्षेत्र के कोट धरमू नाला मुहल्ला निवासी मृतक सुधीर कुमार मिश्रा 45 पुत्र स्व.वरुण कुमार मिश्रा का रहने वाला है। 28 मई को अजमतगढ़ अपने मित्र रमायन पांडेय पुत्र स्व.त्रिलोकी नाथ पांडेय निवासी गौरीशंकर नगर के यहां परिवार समेत आया था जबकि रमायन लगभग  10 साल से अपना  मकान बना कर रहते है। तांत्रिक का काम करते थे और दूर दराज से काफी संख्या में लोग आते थे। जहाँ जबरदस्त भीड़ लगती थी। वही रात्रि में सुधीर ने खाना खाने के बाद लगभग 10 बजे रात्रि को पत्नी अर्चना को कमरे में बुलाया पर पत्नी नही आई तो पति पत्नी में विवाद हो गया। विवाद के बाद सुधीर ने कहा कि आजमगढ़ चलो पर रात्रि में नही सुबह चलने की बात कह कर सभी  सोने चले गए । सुधीर दूसरे तल पर कमरे में अंदर से कुंडी लगा कर सोने चला गया और ऊपर के ही बगल वाले कमरे में बच्चो के साथ पत्नी सो गई। सुबह लोगो ने सुधीर को आवाज लगाई तो वह नही निकला काफी देर तक दरवाजा पीटते रहे। शंका होने पर परिजन ने 100 नम्बर पुलिस को सूचना दी पुलिस पहुंची काफी प्रयास किया पर दरवाजा नही खुला तो तोड़ा गया तो वह साड़ी के सहारे पंखे में झूलता मिला। शव को नीचे उतारा गया। इस दौरान मुहल्ले वालो की भीड़ जुट गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर सीओ और कोतवाल पंहुंच कर जांच में जुट गये। मृतक की शादी चंदौली जनपद के कैथिकला ग्राम में वर्ष 2001 में हुई थी ।पत्नी अर्चना मिश्रा ने कहा कि पति दिमागी रूप से विछिप्त थे और आटो चलाते थे। मुझे हमेशा  परेशान करते थे। छोटी छोटी बातो को लेकर झगडे करते थे। मृतक के दो बच्चे अर्पिता 12 वर्ष अर्पित 10 वर्ष का रो रो कर बुरा हाल है। अब तक परिजनों ने तहरीर नही दी है बल्कि रमायन पांडेय पुत्र त्रिलोकी पांडेय ने तहरीर दी कि मेरे मित्र तीन दिन पूर्व अपने परिजनों के साथ मेरे यहाँ आये और रात्रि में ऊपर के कमरे में सोए थे सुबह पंखे के सहारे फांसी लगा कर आत्म हत्या कर लिया। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment