.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

स्ववित्त पोषित महाविद्यालय प्रबंधकों में विश्वविद्यालय की मनमानी पर किया गया मंथन

शाहगढ़: आज़मगढ़: स्ववित्त पोषित महाविद्यालय प्रबन्धक एशोसिएशन की बैठक बुधवार को आर के फार्मेसी कालेज सठियांव के सभागार में हुई। जिसमें जनपद के कोने कोने से आये प्रबन्धकों ने भाग लिया। बैठक में नये पदाधिकारियों का चयन किया गया तथा महाविद्यालय प्रबन्धन एवं संचालन में आने वाली समस्यओं पर चर्चा की गयी।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से विश्वविद्यालय द्वारा छात्रों के प्रवेश शुल्क के नाम पर मनमानी धन उगाही तथा शिक्षकों के भौतिक सत्यापन के नाम पर महाविद्यालय के शिक्षकों को अनावश्यक परेशान करना सहित विभिन्न मुद्दे पर विस्तार पूर्वक चर्चा चली। इस दौरान संगठन के अध्यक्ष राज बहादुर सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन के लोग महाविद्यालय का संचालन करने वाले प्रबन्धकों से अवैध शुल्क प्रति छात्र 1600 से अधिक वसूल करते हैं। जबकि सरकार व शासन द्वारा निर्धारित शुल्क मात्र 600 रूपये है। इस प्रकार की मनमानी संगठन कभी भी बर्दाश्त नहीं करेगा। कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए अन्य समस्याओं के निराकरण पर भी मन्थन किया गया। उसके बाद नये पदाधिकारियों का चयन भी किया गया। सर्व सम्मति से राज बहादुर सिंह को संगठन का अध्यक्ष चयन किया गया। जबकि राजेन्द्र यादव व आलोक पाण्डेय को उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया। कोषाध्यक्ष विशाल यादव उर्फ मोनू को बनाया गया। राम नरेश यादव संगठन के मन्त्री चुने गये। इस प्रकार प्रबन्धक एसोसिएशन का चुनाव सम्पन्न हुआ। बैठक की अध्यक्षता राज बहादुर सिंह व संचालन रमेश सिंह ने किया। इस अवसर पर डा0 प्रेम प्रकाश यादव, अरविन्द सिंह, मनीष यादव, मिर्जा़ रईस बेगए अब्दुल्लाह, विजेन्द्र सिंह सहित सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment