.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजादी के बाद भी सत्ता पर है ब्राहम्णों का कब्जा- वामन मेश्राम


गर्जना रैली में बहुजन मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के उद्गार                                                             आजमगढ़। बहुजन मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष वामन मेश्राम ने भारत के 3 प्रतिशत ब्राहम्णों द्वारा मूल निवासी बहुजन समाज को हजारों जातियों में बाँटकर उन्हे आपस में लड़ाकर शासक के रूप में उनके हक व अधिकार पर कब्जा करने का आरोप लगाते हुए कहा कि आजादी के बाद सत्ता पर ब्राहम्णों का कब्जा कायम है। मेश्राम बुधवार को जिला मुख्यालय स्थित अम्बेडकर पार्क में मोर्चा द्वारा आयोजित लोनिया चौहान अधिकार जागृति गर्जना महारैली को सम्बोधित कर रहे थे। कहा कि देश के 85 प्रतिशत आबादी वाले मूल निवासी बहुजन समाज को जागृत कर जनान्दोलन के माध्यम से आजाद कराना होगा तभी इनका सभी क्षेत्रों में विकास होगा। नबाब सिंह चौहान ने कहा कि काँगे्रस, भाजपा सहित अनेक राजनैतिक दल लोनिया चौहान समाज के नेताओं का चेहरा दिखाकर वोट लेते हैं, सत्ता में आने के बाद इस समाज के लोगों को उनके हक व अधिकार से वंचित रखा जाता है यह ब्राहम्ण वादी षड्यत्र हैं। धर्मेन्द्र कुमार चौहान ने लोनिया चौहान में वास्तविक नेतृत्व की कमी को इस समाज के राजनैतिक, सामाजिक व आर्थिक पिछड़ेपन का मूल कारण बताया। सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक चली गर्जना रैली में मऊ, बलिया आदि से आये भारी संख्या में कार्यकर्ता शामिल रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment