.

.

.

.

.

.
.

पहल : अवैध कच्ची शराब के बढ़ते प्रभाव को रोकने को जीयनपुर कोतवाल ने ग्रामीणों को किया जागरूक

इसरहा के प्रधान के सहयोग से गांव में चलाया जागरूकता अभियान                          महिलाओं ने कहा शराब के चलते गांव में नही है बहु बेटियां सुरक्षित 

जीयनपुर : आजमगढ़ :सगड़ी तहसील के जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के इसरहा गांव में पुलिस ने कोतवाल राजेश यादव की पहल पर एक सराहनीय कदम उठाया । अवैध कच्ची शराब के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए ग्रामीणों संग बैठक कर जागरुकता अभियान चलाया गया । इस दौरान महिलाओं की काफी संख्या मौजूद रही। महिलाओं ने कहा कि शराब के चलते गांव में अराजकता का माहौल है और गांव की बहू बेटियां भी सुरक्षित नहीं है। शराब किस भी दशा में बंद होनी चाहिए। बैठक को संबोधित करते हुए सबइंस्पेक्टर राजेंद्र मिश्रा ने कहा कि शराब से घर की तो क्षति होती ही है समाज में भी शराब पीने वालों की छवि ठीक नहीं होती , ऊपर से लीवर किडनी ह्रदय आदि की बीमारियां बढ़ जाती हैं। अंत में मनुष्य असमय काल के गाल में समा जाता है। ग्राम प्रधान रमेश निषाद ने कहा कि गांव में बिक रही अवैध शराब को रोकने के लिए युवा और महिलाएं आगे आई हैं जिससे शराब बेचने वालों में दहशत फैल गई है। बैठक के दौरान महिलाओं में मोहनी देवी ने कहा कि गांव में नौजवान से लेकर बूढ़े तक शराब पीते हैं और आए दिन मारपीट करते हैं वह दरवाजे से गुजरने वाली बहू बेटियों के साथ आए दिन छेड़छाड़ ,अभद्र भाषा का प्रयोग किया जाता है, जिसेसे गांव की बहू बेटियां सुरक्षित नहीं है ,शराब को हर हाल में बंद होना चाहिए।  उन्होंने कहा कि पुलिस के लोग खुद ही शराब बेचने को उकसाते हैं और पैसा लेते हैं जिस से गांव में कई बार शराब बंदी के लिए अभियान चलाया गया पर पुलिस के कुछ लोग पैसा लेकर इन शराब माफियाओं से शराब बेचने के लिए प्रेरित करते रहे  जो अब एक बिमारी का रूप धारण कर चुका है । इस मौके पर कोतवाल राजेश प्रताप यादव ने कहा कि अब आपका सहयोग रहा तो गांव में शराब किसी भी दशा में नहीं बिकेगी और यदि कोई बेचता हुआ पाया गया तो उनके साथ साथ उनके घर के लोग भी नहीं बख्से जाएंगे और सभी के ऊपर कारवाई की जाएगी, और पकड़ कर जेल में डाल दिया जाएगा। उन्होंने कहा की गांव गांव शराब बंदी पर जागरूकता अभियान चलाया जायेगा। बैठक में गाँव की महिलाओ व् पुरुषो को कसम खिलाई गयी की वो शराब का विरोध करेंगे तथा इससे उससे उत्पन्न सामाजिक बुराइयो को समझाया गया।  बैठक में प्रधान रमेश निषाद ,दुर्गावती, सुशीला, इशरावती, गुलाबी ,सोनबरसा, निर्मला ,गुलाबी, दिलीप, गुलाब, बरखा, आदि लोग मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment