.

.

.

.

.

.
.

विद्युत पोल में हाई टेंशन करंट उतरने से 02 चचेरे भाइयों की मौत , 03 झुलसे

अाजमगढ। बिजली विभाग की लापरवाही की कीमत दो चचेरे भाईयों ने अपनी जान दे कर चुकायी। पांच दिन से अंधेरे में डूबे फूलपुर तहसील क्षेत्र के ऊदपुर गांव में रमज़ान माह में घटी दिल दहलाने वाली घटना से पूरे परिवार पर गम का पहाड़ टूट पड़ा ।
मिली जानकारी के अनुसार ऊदपुर गांव में पांच दिन पूर्व से 10 केवीए का ट्रान्सफार्मर जला पड़ा है। बिजली आपूर्ति बाधित होने से रोज़ेदारों सहित गांव के अन्य लोग काफी परेशान थे व कई बार विद्युत  विभाग को इस समस्या से अवगत भी कराया गया , लेकिन कोई समाधान ना होने के चलते स्थानीय लोगों ने  पुराने पोल के पास आर सी सी का एक अन्य पोल गाड़ने का निर्णय लिया। जिसमें एक हैवी ट्रांसफार्मर बैठाने की योजना थी।  इस कार्य को अमलीजामा पहनाने के लिए मंगलवार रात 12 बजे पोल को गाड़ा जा रहा था जिसमें गांव के दर्जनों लोगों सहित दोनों मृतक चचेरे भाई तबरेज़ (45) पुत्र मुस्ताक व जुबेर (42) पुत्र अश्फाक भी शामिल थे। गाड़े जा रहे पोल के उपर से 11 हजार वोल्ट  का तार गया था।  पोल के उपर एक लोहे का सरिया निकला हुआ था जो कि हाई वोल्टेज तार के सम्पर्क में आ गया था।   पोल के निचले हिस्से में पानी डाल कर राड से पोल को सीधा करते वक्त हाई बोल्टेज़ तार से करंट नीचे तक आ गया गया और विद्युत धारा का प्रवाह सीधे पोल में होने लगा और हाई टेंशन करंट से एक ही झटके में दो लोगों की मौत हो गयी व अकरम, पप्पू , खालिद आदि लोग घायल हो गये। दो चचेरे भाईयों के दुर्घटना में हुई मौत से गांव में कोहराम मच गया। बता दे क़ी जुबेर बाहर खाड़ी देश में रह कर काम करता था जिसे ईद बाद वापस जाना था तथा तबरेज यही रह रहा था।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment