.

.

.

.
.

आजमगढ: संपूर्ण समाधान दिवस पर डीएम ने दिखाए कड़े तेवर


दो लेखपाल निलम्बित, राजस्व निरीक्षक के विरुद्ध चार्जशीट देने का निर्देश

आजमगढ़: आज मेंहनगर तहसील में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज पूरे तेवर में नजर आये। कार्य के प्रति शिथिलता बरतने पर जिलाधिकारी ने जहां दो लेखपालों को निलम्बित कर दिया वहीं राजस्व निरीक्षक के विरुद्ध चार्जशीट देने का निर्देश दिया।
जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज एवं पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य की अध्यक्षता में आज तहसील मेंहनगर के सभागार में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को जन समस्याओं के त्वरित एवं गुणवत्तायुक्त निस्तारण करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि इसमे किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नही होगी, जन समस्याओं का गुणवत्तायुक्त एवं समयबद्ध निस्तारण शासन की प्राथमिकता है। प्रार्थी जितेन्द्र पु0 भगेलू ग्राम बहोरापुर भद्दोर मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि प्रार्थी के सीमांकन आदेश के बावत कई बार दर्खाश्त देने के बावजूद भी अनुपालन न कराने पर प्रार्थी के भूमिधरी के बावत किसी प्रकार निषेधाज्ञा आदेश न होने के बावजूद मामले का निस्तारण नही किया गया है। उक्त प्रकरण में आदेश के बावजूद कार्यवाही न करने पर जिलाधिकारी ने राजस्व निरीक्षक घनश्याम यादव के विरूद्ध चार्जशीट देने के लिए उप जिलाधिकारी मेंहनगर को निर्देश दिये। प्रार्थी राजवीर सिंह पु0 श्यामसुन्दर, ग्राम कटहन द्वारा अवगत कराया गया कि प्रार्थी के घर आने-जाने वाले रास्ते को गांव के प्रमोद सिंह व अन्य लोगों द्वारा काटकर अस्थाई तौर पर कब्जा किया गया है। उक्त प्रकरण में आदेश के बावजूद आवश्यक कार्यवाही न करने पर जिलाधिकारी ने कटहन के लेखपाल अजय सिंह को निलम्बित करने हेतु उप जिलाधिकारी मेंहनगर को निर्देशित किया।
प्रार्थी अम्बिका सिंह पु0 स्व0 द्वारिका सिंह, ग्राम दामा, मेंहनगर द्वारा अवगत कराया गया कि मौजा दामा में आराजी नं0 925 में खतौनी में चकरोड अंकित है। जिस पर तहसील मेंहनगर में प्रार्थी द्वारा चकमार्ग से अवैध कब्जा हटवाने के सम्बन्ध में प्रार्थना पत्र दिया गया। जिस पर लेखपाल देवेन्द्र राम ने बताया कि उक्त आराजी में नवीन पर्ती खाते की भूमि गलती से चकमार्ग दर्ज है। कागजात संशोधन हेतु रिपोर्ट प्रस्तुत की जा रही है। उक्त नम्बर में अवैध कब्जा नही है एवं उपरोक्त भूमि में बना आम रास्ता सुचारू रूप से चालू है। जबकि इससे पूर्व में लेखपाल द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट चकमार्ग पर अंकित है और आबादी होना दर्ज दिखाया गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने उक्त प्रकरण का संज्ञान लेते हुए लेखपाल देवेन्द्र राम द्वारा गलत रिपोर्ट प्रस्तुत करने पर निलम्बित करने हेतु उप जिलाधिकारी मेंहनगर को निर्देशित किया। इस अवसर पर कुल 67 मामले आये, जिसमे से 06 मामलों का मौके पर निस्तारण किया गया। जिलाधिकारी ने समस्त संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिन-जिन विभागों से संबंधित आवेदन पत्र प्राप्त हुए हैं, उसे जल्द से जल्द शत प्रतिशत गुणवत्तायुक्त निस्तारित करना सुनिश्चित करें।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment