.

.

.

.
.

आजमगढ़: शुभ मुहूर्त में जन्म लेते ही माता-पिता ने कर दिया बच्चों का नामकरण


परिवार मना रहा खुशियां, बांट रहे मिठाई,बेटी हुई तो सीता बेटा हुआ तो राघव रखा नाम

आजमगढ़: अयोध्या में नवनिर्मित नव्य भव्य मंदिर में श्रीराम लला के विग्रह के प्राण प्रतिष्ठा के शुभ मुहूर्त में बच्चों का जन्म लेना माता-पिता भगवान राम और सीता का अंश मान रहे। जिसे लेकर परिवार में खुशियां हैं तो पास-पड़ोस में मिठाई भी बांटी जा रही है। इस अविस्मरणीय पल में भगवान के अंश का स्वागत करने के लिए परिवार का हर सदस्य आतुर है। बेटी को सीता और पुत्र को राम अवतार का रूप मानकर परिवार में चहुंओर खुशियां हैं। भगवान श्रीराम के प्राण प्रतिष्ठा के दिन राहुल सांस्कृत्यायन जिला महिला अस्पताल में प्रतिदिन की अपेक्षा सोमवार को बच्चों की पैदाइश में दो से तीन की संख्या में बढ़ोतरी रही। आखिरकार लोगों को जिस शुभ मुहूर्त का इंतजार था, वह दिन आ ही गया। महिला अस्पताल में नार्मल और सीजर मिलकर लगभग लगभग 20 महिलाओं ने बच्चों को जन्म दिया, जिसमें लगभग पांच से सात बच्चों ने प्राण प्रतिष्ठा के शुभ मुहूर्त पर जन्म लिया तो उनके माता-पिता खुशी से नहीं समा रहे हैं।
कंधरापुर बाजार की निशा पत्नी पतिराम ने बताया कि भगवान श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा के समय 1:48 बजे एक बच्ची को जन्म दिया।इस शुभ मुहूर्त में बच्ची का जन्म होना बड़े सौभाग्य की बात है। बच्ची हमारे घर माता सीता के रूप में आई है तो उसका नाम हम लोगों ने पहले ही से सोच है कि माता सीता के नाम का उसका नामकरण होगा, जिससे उसके जन्म का समय यादगार बना रहे।
वहीं मुबारकपुर के बनकट निवासी निधि सिंह पत्नी सुनील सिंह को प्राण प्रतिष्ठा के शुभ मुहूर्त पर 3:28 पर दो बच्चों के बाद तीसरे बच्चे ने जन्म लिया है। कहा ,ऐसा शुभ मुहूर्त बार-बार नहीं आता इसलिए परिवार के लोगों ने बच्चों का नाम राघव उर्फ राम अवतार रखा गया है, जिससे उसके नाम मात्र से ही अपने प्रभु के नाम रूपी दर्शन कर सकेंगे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment