.

.

.

.
.

आजमगढ़: नरौली चौराहा पर स्थापित कराएंगे महाराणा प्रताप की प्रतिमा- अखिलेश मिश्र



महाराणा प्रताप के स्वाभिमान से सीख लेने की जरूरत : बिजेन्द्र सिंह

महाराणा प्रताप सेना की बैठक में सम्मानित हुई कई शक्तियां

आजमगढ़:महाराणा प्रताप सेना की आवश्यक बैठक रविवार को शारदा तिराहा स्थित गरूण होटल के सभागार में सम्पन्न हुई। जिसमे मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अखिलेश मिश्र, कमलाकांत सिंह व अन्य द्वारा महाराणा प्रताप के चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया गया। इसके बाद अतिथिद्वय का भी स्वागत किया गया। वहीं सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र सिंह बादल ने हल्दी घाटी की मिट्टी को बारम्बार प्रणाम.... की प्रस्तुति देकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।
इस दौरान मुख्य अतिथि वरिष्ठ भाजपा नेता अखिलेश मिश्र गुड्डू द्वारा कला क्षेत्र में रंगकर्मी ममता पंडित, अभिषेक पंडित, स्मारिका संपादक राणा प्रताप सिंह, लेखन में डा प्रवेश सिंह, शैलेन्द्र सिंह बादल, डा वेदप्रकाश उपाध्याय, कमलाकांत सिंह, अनिल कुमार सिंह, सामाजिक क्षेत्र में दीनानाथ सिंह, अभय तिवारी, बृजभूषण रजक, वीरभद्र प्रताप सिंह, हेमेन्द्र सिंह, ज्ञानेन्द्र कुमार को सम्मानित किया गया। वहीं लोकतंत्र रक्षक सेनानी में प्रभुनाथ सिंह हाफिजपुर, सुबाष गुप्ता व सेना की शक्तियों में यशवंत सिंह, मनीष सिंह, गोलू सिंह, बालचंद चौधरी आदि को महाराणा प्रताप का चित्र, स्मारिका पराक्रम, स्मृति चिंह देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान स्काउट गाइड के भी छात्र-छात्राओं को विशेष रूप से सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि अखिलेश कुमार मिश्र गुड्डू ने कहाकि महाराणा प्रताप सेना का वार्षिक सम्मेलन अद्वितीय और समाज को एक सूत्र में पिरोने वाला रहा। जिसके लिए सेना प्रमुख बिजेन्द्र सिंह की जितनी तारिफ की जाए कम है। सम्मेलन में परिवहन मंत्री ने जो वादा किया है कि उसे पूरा कराने के लिए संगठन के साथ खड़ा रहूंगा। उन्होंने कहाकि महानगरों के तर्ज पर आजमगढ़ के नरौली में भी भारतीय स्वाभिमान के प्रतीक शूरवीर महाराणा प्रताप की प्रतिमा स्थापित कराया जाएगा ताकि आगामी पीढ़ियों को भारतीय इतिहास से रूबरू कराया जा सकें।
वार्षिक सम्मेलन के सफल आयोजन के प्रति सेना प्रमुख बिजेन्द्र सिंह ने सभी के प्रति आभार जताते हुए कहाकि डेढ़ वर्ष कैंसर से लड़ने के बावजूद हमारे संगठन के साथियों ने इसे आठ प्रांतों में विस्तारित दिया। उन्होंने यह भी कहाकि एक दिन ऐसा आएगा जब पूरा देश महाराणा प्रताप के स्वाभिमान और पराक्रम की गौरवगाथा को अक्षुण्य रखने में सेना के योगदान की सराहना करते हुए सीख लेगा। उन्होंने आगामी रणनीति पर भी चर्चा कर संगठन में जोश का संचार किया। वहीं प्रांत प्रभारी अनिल सिंह ने आजमगढ़ की महिला जिलाध्यक्ष की कमान श्रीमती मीना यादव को सौंपा।
अंत में अध्यक्षीय संबोधन में एमएलसी प्रतिनिधि कमलाकांत सिंह ने शहर से लेकर गांव तक संगठन को मजबूत करते हुए हर घर तक महाराणा प्रताप सेना की चित्र पहुचाने की बात कहीं। संचालन प्रांत प्रभारी अनिल कुमार सिंह ने किया।
इस दौरान जिलाध्यक्ष सुरेश सिंह, शिवम सिंह, जय सिंह, अजय सिंह, यशवंत सिंह, भागवत तिवारी, प्रभुनाथ सिंह, महेन्द्र सिंह, नरेन्द्र सिंह, मनोज सिंह, वीरभद्र प्रताप सिंह, जय सिंह, संजय सिंह, अभिषेक यादव, अंकित पांडेय, शैलेन्द्र सिंह, विपिन बिहारी वर्मा, अभय तिवारी, दीनानाथ सिंह सहित भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment