.

.

.

.
.

आजमगढ़: फिर पकड़ी गई नकली त्रिवेणी अलमीरा की फैक्ट्री, एफआईआर हुई


कंपनी प्रतिनिधियों ने फैक्ट्री संचालक समेत पांच के खिलाफ एफआईआर कराया

कुछ दिनों पूर्व शहर की एक फर्म के खिलाफ भी दर्ज हुआ था मुकदमा

आजमगढ़: जिले में एक बार फिर त्रिवेणी अलमीरा नाम से नकली अलमारी बनाने की फैक्ट्री पकड़ी गई है। कंपनी की टीम ने गंभीरपुर थाना क्षेेत्र में चल रही फैक्ट्री को पकड़ा और फिर एसपी को पत्रक देकर फैक्ट्री चालक समेत पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। एसपी ने सर्किल आफिसर को जांच का निर्देश दिया है। इसके पहले भी भी शहर के कोट जालंधरी स्थित एक फर्नीचर फर्म के खिलाफ शहर कोतवाली में ऐसा ही मुकदमा दर्ज कराया गया था। गंभीरपुर थाना क्षेत्र में कई फर्नीचर कारखाने चल रहे हैं। यहीं, गोल्डेन अलमीरा (त्रिवेणी मैक्स अलमीरा) के नाम से फैक्ट्री का संचालन मोहम्मदपुर निवासी रिजवान अहमद, उनके पुत्र अबु सहमा और अबु ओसामा के अलावा मैनेजर संजय मिश्र व त्रिवेणी अलमीरा के पूर्व मैनेजर आशीष गुप्ता कर रहे हैं। इस कारखाने में त्रिवेणी अलमीरा के नाम से नकली अलमीरा बना कर बाजार में बेची जा रही थी। त्रिवेणी अलमीरा के मालिक वरुण कुमार तिवारी ने एसपी को पत्रक देकर इसकी शिकायत की। इस पर एसपी अनुराग आर्य ने सीओ को जांच का निर्देश दिया। जांच में आरोप सही पाए जाने पर गंभीरपुर थाने में फैक्ट्री संचालक रिजवान अहमद, अबु सहमा, अबु ओसामा, मैनेजर संजय मिश्र व आशीष गुप्ता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया। कंपनी के मालिक ने तहरीर में बताया कि उक्त लोगों द्वारा कंपनी के ब्रांड की डुप्लीकेट अलमीरा बनाकर बाजार में बेच रहे थे। यही नहीं, ग्राहकों को त्रिवेणी अलमीरा की नकली रसीद भी दी जा रही थी। इसके पहले भी कंपनी की टीम ने जिले में एक नकली फक्ट्री पकड़ी थी, जिसका संचालन नेहा फर्नीचर के नाम से हो रहा था। इस मामले में शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था। कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि आजमगढ़ के अलावा वाराणसी, प्रतापगढ़, बरेली, बांदा, कानपुर, बाराबंकी, बिहार के सिवान, बेतिया, बक्सर, बेगूसराय, मोतिहारी और औरंगाबाद में भी नकली त्रिवेणी अलमीरा के कारखाने पकड़े जा चुके हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment