.

.

.

.
.

आजमगढ़: मंत्रमुग्ध कर गया जीडी ग्लोबल स्कूल का वार्षिकोत्सव




विद्यार्थियों में चरित्र व समुदाय की भावना विकसित करने में मदद है लक्ष्य -गौरव अग्रवाल, प्रबंधक

आजमगढ़: 02 दिसंबर शनिवार को जीडी ग्लोबल स्कूल का वार्षिकोत्सव समारोह ओडिशी 2023 बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि महाराजा सुहेलदेव राज्य विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ प्रदीप कुमार शर्मा तथा विशिष्ट अतिथि जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय बलिया के कुलपति प्रो० संजीव कुमार गुप्ता ने विद्यालय की निदेशिका श्रीमती स्वाति अग्रवाल, प्रबंधक गौरव अग्रवाल तथा प्रधानाचार्या श्रीमती मोनिका सारस्वत पाण्डेय के साथ दीप प्रज्ज्वलित करके किया। विद्यालय के बच्चों द्वारा गणेश वंदना पर भव्य गायन और नृत्य प्रस्तुत किये गये। कार्यक्रम में आए हुए सभी अतिथियों का स्वागत विद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा स्वागत गीत की मनमोहक प्रस्तुति से किया गया। स्वागत गीत के पश्चात नर्सरी के बच्चों द्वारा कंप्लेन किड्स पर बहुत ही मनोरम दृश्य प्रस्तुत किया गया। केजी के नन्हें मुन्हें बच्चों ने घोड़े जैसी चाल चकधुमधुम पर बहुत ही सुंदर नृत्य प्रस्तुत किया जो दर्शकों के आकर्षण का केंद्र रहा। नन्हें मुन्हें प्रतिभागियों द्वारा प्रस्तुत इस कार्यक्रम का मंच संयोजन बहुत ही अद्भुत था। कार्यक्रम में लगभग 1500 से भी अधिक प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। विद्यालय के संगीत वादन के विद्यार्थियों ने गीत श्रीवल्ली के द्वारा मधुर तान छेड़ते हुए कार्यक्रम को एक नई ऊर्जा दी। जहां कक्षा 1, 2 के बच्चों ने ये तो सच है कि भगवान है पर मनमोहक गीत प्रस्तुत करके माता पिता की महत्ता को सिद्ध किया, वहीं तारे जमीं पर की थीम पर बच्चों ने अभिभावकों को बच्चों की भिन्न-भिन्न प्रतिभाओं को पहचानने की मिशाल पेश की।
ओडिशी का उद्देश्य न केवल क्षेत्रीय अपितु वैश्विक स्तर पर भी बच्चों की बहुमुखी प्रतिभा का विकास करना है इस विषय को दृष्टिगत रखते हुए इस वार्षिकोत्सव में विभिन्न राज्यों की संस्कृति का भी समावेश किया गया। जिसको चरितार्थ करते हुए एकता में अनेकता के थीम पर विभिन्न राज्यों की लोक संस्कृति और लोकनृत्य को शामिल करते हुए नमस्ते इंडिया के भव्य प्रस्तुति पर पूरा प्रांगण तालियों की गड़गड़ाहट से गूंजायमान हो गया। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर आधारित बहुआयामी शिक्षा को विकसित करने के उद्देश्य से जीडी ग्लोबल स्कूल में संचालित जीडी संगीत अकादमी के बच्चों ने अलबेला साजन पर सुंदर सामूहिक गान प्रस्तुत किया। पंजाब की संस्कृति पर आधारित विद्यार्थियों ने गिद्धा भांगड़ा नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। स्त्री सशक्तीकरण और केंद्र तथा राज्य सरकार की योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की थीम पर कक्षा 7, 8, 9 तथा 11 की छात्राओं ने एक प्रभावशाली नाटिका और नृत्य प्रस्तुत किया। जहां शक्ति आस्था की प्रतीक नवदुर्गा के देशों अवतार पर आधारित कक्षा 9 और 11 के विद्यार्थियों ने महिषासुर मर्दिनी नामक नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों को तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया, वहीं हनुमान चालीसा पर विद्यालय के बच्चों ने अद्भुत प्रस्तुति देकर दर्शकों को भाव विभोर कर दिया। छठी मैया की स्मृति में लोकल से ग्लोबल होता छठ पर्व बहंगी लचकत जाय की अद्भुत प्रस्तुति ने भी दर्शकों पर अपना खूब रंग जमाया। हरियाणवी नृत्य की याद दिलाता हरियाणवी गीत न चाल मटक मटक के न तो मटका फोड़ के मानूंगी की अद्वितीय प्रस्तुति ने कार्यक्रम को जीवंतता प्रदान की। कार्यक्रम का समापन देशभक्ति गीत से हुआ जिसमें विद्यालय के कक्षा 2, 3, 4 के विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़कर कर प्रतिभाग किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment