.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़:निराजल व्रत रख महिलाओं ने की अमर सुहाग की कामना



घरों और मंदिरों में सामूहिक रूप से किया कथा का श्रवण

मौसम ने भी दिया साथ, अधिकतर आसमान में छाए रहे बादल
आजमगढ़: खुद की तपस्या पूरी होने का विश्वास महिलाओं के चेहरे पर मंगलवार को साफ दिखा। रात के बाद मुंह में एक बूंद पानी भी नहीं गया, लेकिन दिनचर्या में कोई बदलाव नहीं निराजल व्रत रख महिलाओं ने की अमर सुहाग की कामना। पति की दीर्घायु के लिए हरितालिका तीज का निराजल व्रत रखा और शाम को शिव-पार्वती की पूजा कर अखंड सुहाग की कामना की। दिन भर पूजा की तैयारियों में महिलाएं लगी रहीं, तो पुरुष भी सहयोग करते रहे। बाजारों में रौनक दिखी और लोगों ने नए वस्त्र, फल-फूल आदि की खरीददारी की। शाम होने के साथ कहीं घरों में, तो कहीं शिव मंदिरों में महिलाओं की भीड़ उमड़ी। व्रतियों ने शिव-पार्वती की पूजा की और कथा का श्रवण किया। तमाम घरों में जहां पुरोहित बुलाकर घर में ही कच्ची मिट्टी के शिव-पार्वती की प्रतिमा की पूजा और कथा का श्रवण किया गया, वहीं काफी महिलाएं ऐसी थीं जिन्होंने किसी शिव मंदिर में पहुंचकर सामूहिक रूप से शिव-पार्वती की कथा का श्रवण किया। इस दौरान मौसम ने भी पूरा साथ दिया। यानी धूप और उमस की जगह अधिकतर समय आसमान में बादल छाए रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment