.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्रों ने खुद को हास्टल में किया बंद



डीएम को बुलाने तथा प्राचार्य को हटाने की मांग पर अड़े थे

एसडीएम के समझाने के बाद ताला खोल रखीं समस्याएं  

आजमगढ़: जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्रों ने गुरुवार की सुबह हास्टल का दरवाजा अंदर से बंद कर खुद को कैद कर लिया। छात्र कमरे में हंगामा करने लगे और जिलाधिकारी को बुलाने तथा प्राचार्य को हटाने की मांग पर अड़ गए। प्राचार्य से इसकी जानकारी मिलने पर उपजिलाधिकारी सगड़ी राजीव रतन सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी अनिल कुमार वर्मा, नायब तहसीलदार मयंक मिश्रा, प्रभारी निरीक्षक जीयनपुर यादवेंद्र पांडेय मौके पर पहुंच गए।
पहले छात्रों ने हास्टल ही नहीं खोला। एसडीएम के काफी समझाने के बाद हास्टल का ताला खोला, तो एसडीएम से शिकायत शुरू कर दी। विद्यालय के छात्रों ने आरोप लगाया कि मेन्यू के हिसाब से कभी भोजन नहीं दिया जाता, घटिया भोजन खिलाया जाता है। बिजली की सबसे बड़ी समस्या है। जेनरेटर होते हुए भी हम लोगों को इसकी सुविधा नहीं मिल पा रही है। पानी की समय से सप्लाई ही नहीं होती। पंखे खराब हैं, कमरों में गंदगी फैली है। साफ-सफाई के नाम पर कुछ नहीं है। शिकायत करने पर दंडित किया जाता है। छात्रों ने उपजिलाधिकारी से प्राचार्य के स्थानांतरण और शिकायत की जांच कर कार्रवाई की मांग की।
उपजिलाधिकारी ने छात्रों की बातों को सुनने के बाद नायब तहसीलदार को शिकायतों की जांच करने का निर्देश दिया। उप जिलाधिकारी ने आश्वासन दिया कि एक सप्ताह के अंदर ही सारी समस्याएं ठीक कर ली जाएंगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उप जिलाधिकारी ने विद्यालय के मेस का भी निरीक्षण किया और मेस प्रभारी को सख्त हिदायत दी कि अगर तनिक भी खाना गड़बड़ हुआ तो कार्रवाई की जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment