.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: गैर जमानती वारंट के बाद पूर्व एसओ ने दर्ज कराया बयान


मुख्तार अंसारी, श्याम बाबू पासी की ऑनलाइन पेशी हुई

तरवां हत्या केस में अन्य 07 आरोपियों को अदालत लाया गया

आजमगढ़ : जिले के तरवां थाना क्षेत्र के ऐरा कला गांव में 6 फरवरी 2014 को हुई मजदूर की हत्या व गैंगस्टर के मुकदमे में बांदा जेल में निरुद्ध मुख्तार अंसारी समेत नौ आरोपियों की मंगलवार को एमपी-एमएलए कोर्ट के स्पेशल जज ओमप्रकाश वर्मा तृतीय की अदालत में पेशी हुई। गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद पूर्व थाना प्रभारी अनिल चंद तिवारी ने भी अपना बयान दर्ज कराया। अब अगली तारीख 17 अगस्त को वादी, गवाह से जिरह होगी।
बांदा जेल में निरुद्ध मुख्तार, बुलंदशहर की जेल में निरुद्ध श्याम बाबू पासी की वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेशी हुई, जबकि बाकी सात को अदालत लाया गया था। राजन पासी, राजेंद्र पासी, सोहन पासी, राजेंद्र यादव, हरकेश यादव, उमेश सिंह, छोटा पंकज यादव अदालत में उपस्थित रहे।
हत्या के मुकदमे में मुख्तार अंसारी समेत नौ आरोपित हैं। इसी मुकदमे के आधार पर बाद में अक्टूबर 2020 में गैंगस्टर एक्ट के तहत भी कार्रवाई की गई थी। सरकार की तरफ से अधिवक्ता लाल बहादुर सिंह व दीपक मिश्रा ने बयान कराया, वहीं दूसरी तरफ आरोपितों की तरफ से अधिवक्ता लल्लन सिंह, हरिबंस यादव व जित्तू मौर्या ने पैरवी की।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment