.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: 04 अधिकारी मिले अनुपस्थित, स्पष्टीकरण तलब,कार्रवाई की चेतावनी


मण्डलायुक्त एवं डीआईजी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस का तहसील सदर में किया निरीक्षण

आजमगढ़, 06 अगस्त। मण्डलायुक्त मनीष चौहान तथा डीआईजी अखिलेश कुमार ने शनिवार को तहसील सदर में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान दोनों अधिकारियों ने वहॉं उपस्थित फरियादियों से उनकी समस्याओं को पूरी गंभीरता के साथ सुना तथा उसे समयबद्ध रूप से गुणवत्तायुक्त निस्तारण हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को हस्तान्तरित किया। मण्डलायुक्त श्री चौहान ने कहा कि जन समस्याओं का निस्तारण शासन की प्राथमिकता से सम्बन्धित कार्यक्रम है, इसलिए इसके प्रति पूरी संजीदगी बरती जाय, किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होनी चाहिए। मण्डलायुक्त के समक्ष अपना शिकायती प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करते हुए कतिपय फरियादियों द्वारा पूर्व में किये गये निस्तारण से असहमति व्यक्त किये जाने पर उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में जो भी शिकायतें आमजन से प्राप्त होती हैं उसका ठोस एवं गुणवत्तायुक्त निस्तारण किया जाय ताकि पुनः उसी प्रकरण को लेकर आने की आवश्यकता न पड़े। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि अविवादित वरासत, धारा 24 के वाद, दाखिल खारिज के वाद को समयबद्ध रूप से निस्तारित किया जाये, किसी भी दशा में अकारण लम्बित नहीं मिलना चाहिए। इस दौरान अधिकारियों के समक्ष कुल 149 प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किये गये, जिसमें राजस्व के 105, विकास के 8, पुलिस के 26, शिक्षा के 3 मामले तथा अन्य विभागों से सम्बन्धित 7 मामले सम्बन्धित थे। मौके पर अधिकारियों द्वारा 17 शिकायती प्रार्थना पत्रों का निस्तारण किया गया। सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर कुल चार अधिकारी अनुपस्थित थे, जिसमें सहायक विकास अधिकारी, सहकारी समितियॉं, सहायक वन संरक्षक, सहायक अभियन्ता लघु सिंचाई, एवं सहायक अभियन्ता विद्युत सम्मिलित हैं। मण्डलायुक्त श्री चौहान ने इस सम्बन्ध में उपजिलाधिकारी सदर को निर्देशित किया कि इन अधिकारियों से उनकी अनुपस्थिति के सम्बन्ध में स्पष्टीकरण प्राप्त कर उपलब्ध करायें तथा इस आशय की चेतावनी भी निर्गत की जाय कि भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति पाये जाने पर कठोर कार्यवाही की जायेगी। डीआईजी अखिलेश कुमार ने गत सम्पूर्ण समाधान दिवसों में प्राप्त पुलिस विभाग से सम्बन्धित मामलों में की गयी निस्तारण कार्यवाही की थानावार समीक्षा किया तथा पुलिस विभाग से सम्बन्धित मामलों की सुनवाई भी की। उन्होंने सभी थाना प्रभारियों को आगामी त्योहारों के दृष्टिगत शांति व्यवस्था, कानून व्यवस्था सुदृढ़ बनाये रखने हेतु निर्देशित किया। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी सदर जेआर चौधरी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, नायब तहसीलदार सदर सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment