.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: लाइफलाइन हॉस्पिटल ने लकवा के प्रति जागरूक कर बनाया रिकार्ड


215 अस्पताल हुए शामिल, 17699 लोग किए गए सतर्क

बोरह्नींगर इंगेलहिम के मुहिम को गिनीज बुक में मिला स्थान

आजमगढ़ : लकवा से बचाव के प्रति जागरूकता अभियान चलाकर 215 अस्पतालों ने गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज कराया है। यह उपलब्धि सात दिन में 17699 लोगों को घातक बीमारी से बचाव के बारे में जागरूक करने के लिए मिली है। बोरह्नींगर इंगेलहिम कंपनी ने जागरुकता अभियान को देश भर में शुरू कराया था। आजमगढ़ के लाइफ लाइन हास्पिटल के वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डा. अनूप यादव ने प्रेस को बताया कि जागरूकता अभियान 29 अक्टूबर 2021 को शुरू होकर एक सप्ताह तक चला था। लाइफ-लाइन अस्पताल की सहभागिता करीब दो हजार लोगों को जागरूक करने की थी। कहा कि भागदौड़ और तनाव भरे जीवन में हाई ब्लडप्रेशर, शुगर के बाद लकवा महामारी से कम नहीं है। इसके पीछे बस तनाव व दिनचर्या प्रमुख कारण है। जिले में रोजाना 13 लोग इस बीमारी की चपेट में आते हैं। लाइफ लाइन हास्पिटल वर्ष 2013 में ही स्ट्रोक केयर यूनिट की स्थापना कर 150 से अधिक लोगों को बीमारी से बचा चुका है। वर्ल्ड स्ट्रोक आर्गनाइजेशन इसके लिए डायमंड पुरस्कार से नवाज चुका है। डा. गायत्री, डा. पीयूष, सुमन यादव, आकाश दंगे, सत्येंद्र व आशुतोष चौबे आदि मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment