.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: मंकी पाक्स से निपटने को तैयार हुआ राजकीय मेडिकल कालेज


मेडिकल कालेज में 10 बेड का अलग आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है

आजमगढ़ : कोरोना पर नियंत्रण के बाद विभिन्न देशों में फैले मंकी पाक्स की बीमारी ने सरकार व स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ा दी है। केंद्र सरकार द्वारा जारी एडवाइजरी के क्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट मोड पर ला दिया है ।
हालांकि प्रदेश में अभी मंकी पाक्स से संबंधित एक भी केस नहीं है, लेकिन मुख्यमंत्री के निर्देश पर एहतियात के तौर पर स्वास्थ्य विभाग ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं । स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी निर्देश के क्रम में राजकीय मेडिकल कालेज में 10 बेड का अलग से आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है, जिससे इस बीमारी से ग्रसित किसी भी व्यक्ति की समय रहते जांच और इलाज किया जा सके। इस तरह के लक्षण वाले मरीजों का सैंपल पुणे स्थित लैब में भेजा जाएगा।
डाक्टर आरपी शर्मा, प्रधानाचार्य, राजकीय मेडिकल कालेज ने बताया कि मंकी पाक्स एक वायरस डिजीज (बीमारी) है। इससे पीड़ित मरीज के शरीर में फफोले की तरह से दाने निकल जाते हैं। तेज बुखार के साथ शरीर में दर्द होता है। इसके लिए कोई विशेष दवा नहीं होती है । लक्षण के आधार पर इलाज किया जाता है । अस्पताल की मुख्य बिल्डिंग के बगल स्थित होल्डिंग एरिया अधिग्रहित क्षेत्र में जहा कोरोना के मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है, उसी में अलग से 10 बेड का वार्ड सुरक्षित कर लिया गया है। हमारे पास दवा की पर्याप्त उपलब्धता है। हालांकि इस तरह का कोई भी केस अभी नहीं आया है, लेकिन शासन के निर्देश के क्रम में मेडिकल कालेज प्रशासन किसी भी आपात स्थिति से निपटने को पूरी तरह तैयार है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment