.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: पेपर लीक मामले में जेल में बंद बलिया के पत्रकारों से नही मिल सके लल्लू



कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने जेल प्रशासन के इन्कार करने पर सरकार पर साधा निशाना

बलिया के जिला प्रशासन का वहां के नकलमाफियों से गठजोड़ है अजय कुमार लल्लू

आजमगढ़: बलिया में वायरल हुए हाईस्कूल के संस्कृत और इंटरमीडिएट अंग्रेजी प्रश्न पत्र के प्रकरण में तीन पत्रकारों की गिरफ्तारी पर कांग्रेस के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ‘लल्लू’ ने वहां के जिला प्रशासन और सरकार को निशाने पर लिया। कहा कि बलिया के जिला प्रशासन का वहां के नकलमाफियों से गठजोड़ है। पत्रकारोें ने अपनी नैतिक जिम्मेदारी निभाई लेकिन प्रशासन ने अपनी कमी छिपाने के लिए तीन मीडिया कर्मियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने यह बातें रविवार को मंडलीय जिला जेल में बलिया के गिरफ्तार मीडियाकर्मियों से मिलने पर रोक लगाए जाने के बाद रैदोपुर में प्रेस-प्रतिनिधियों से वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस छात्रों के भविष्य और मीडियाकर्मियों की गिरफ्तारी के मुद्दे को लेकर सदन से सड़क तक लड़ाई लड़ेगी। उन्होंने बताया कि आजमगढ़ मंडलीय कारागार में बंद बलिया के मीडियाकर्मियों से मिलने के लिए समय लिया और अपनी आइडी दी लेकिन जेलर ने सरकार के आदेश के बिना जेल में बंद आरोपितों से मिलाने से इन्कार कर दिया। उन्होंने कहा कि अब जेल में बंद लोगाें से मिलने के लिए एक जनप्रतिनिधि को सरकार से मिलने की इजाजत लेनी पड़ेगी, यह कौन सा कानून है। उन्होंने बलिया पेपर लीक प्रकरण में सरकार को भी कटघरे में खड़ा किया। बताया कि वे यहां से बलिया पहुंच गिरफ्तार मीडियाकर्मियों के स्वजन से मुलाकात करेंगे। पार्टी पदाधिकारियों के साथ मिलकर अगली रणनीति बनाएंगे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment