.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: विकास नही धर्म के नाम पर जीत रही है भाजपा- अबु आसिम आज़मी


कश्मीर फाइल्स झूठ का पुलिंदा है,गुजरात फाइल्स भी दिखा दो - सपा नेता

अखिलेश यादव को जिले से बहुत लगाव है, जो भी विकास हुआ है सब सपा की देन है

आजमगढ़ : जिले के दौरे पर आए समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता ​​​अबू आसिम आजमी ने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा को जनता ने विकास के नाम पर नहीं बल्कि धर्म के नाम पर वोट दिया है। अबू आसिम ने कहा कोरोना काल में प्रदेश की जनता को अस्पतालों में दवा और ऑक्सीजन नहीं मिल पाए। लेकिन चुनाव में ऐसे मुद्दे बने जिससे लोगों के जज्बात को भड़काया जा सके। मीडिया से बातचीत करते हुए सपा महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष अबू आसिम आजमी ने कहा कि निश्चित रूप से इस विधानसभा के चुनाव में सपा को कामयाबी मिली है। 2017 के विधानसभा चुनाव में सपा को 49 सीटें मिली थी, इस बार हमारी सीटें बढ़ी हैं। एक तरफ पूरी सरकार थी, आईएएस अधिकारी व चुनाव आयोग था और एक तरफ हम लोग। सपा नेता का कहना है कि इस बार के विधानसभा चुनाव में बेईमानी हुई है। जिस तरह से भाजपा के लोगों को लोगों ने विरोध करते हुए घरों से भगाया था। कोरोना संक्रमण के समय लाशों को गंगा में फेंका गया था। ऐसे में लगता है कि कहीं न कहीं गड़बड़ी हुई है। कहा कि ईवीएम की जांच के लिए एक कमीशन बनना चाहिए। जिसमें अच्छे रिकार्ड वाले अधिकारियों को तैनात किया जाना चाहिए, जो इस बात की जांच करें कि क्या वोटिंग मशीन बदली जा सकती है। इसमें एनजीओ व रिटायर्ड ईमानदार अधिकारियों को तैनात किया जाना चाहिए, जिससे सच्चाई बाहर आ सके। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव द्वारा आजमगढ़ संसदीय सीट से इस्तीफा दिए जाने के सवाल पर सपा नेता अबू आसिम आजमी का कहना है कि अखिलेश यादव का आजमगढ़ से बहुत लगाव है जिले में जो भी विकास हुआ है सब समाजवादी पार्टी की देन है। और यही कारण है कि जिले की सभी 10 सीटों पर सपा चुनाव जीती है। सपा नेता ने कहना है कि काश्मीर फाइल्स पूरी तरह से बोगस फाइल है। यह झूठ का पुलिंदा है। उन्होंने ने कहा कि यदि काश्मीर फाइल्स दिखाना है तो गुजरात फाइल्स भी दिखा दो। आरटीआई का जवाब आया है कि 30 वर्षों में काश्मीर में 1724 लोग मारे गए। मरने वालों में 89 पंडित हैं जो लगभग पांच प्रतिशत है। सपा नेता ने बताया कि काश्मीर का मुसलमान वहां के आतंकवादियों से लड़ रहा है। काश्मीर से भागने वालों में 12 हजार मुसलमान है, जबकि दो लाख से अधिक पंडित हैं। यह सब सरकार की जानी- समझी साजिश है। भाजपा का मकसद है की मुसलमानों के साथ हिंदुओं में ऐसी नफरत भर दो कि उस नफरत का फायदा लेकर हम भारत वर्ष में राज करते रहें और इस देश को बर्बादी के कगार पर ले जाएं।
विधानसभा चुनाव में कम सक्रियता के सवाल पर सपा नेता का कह कि पूरे देश में एक मैसेज चल रहा है कि मुसलमान अछूत है। यदि चुनावी सभाओं में मुसलमान साथ खड़ा है तो बहुसंख्यकों का वोट नहीं मिलेगा। इसी कारण मैं स्वयं चुनाव में प्रचार से दूर रहा। अबू आजमी का कहना है कि चुनाव से भले दूर रहा पर टेलीफोन से लगातार काम करता रहा। यदि चुनाव प्रचार करता तो जबरदस्ती भाजपा पोलराइज करने का प्रयास करती। यही कारण रहा कि इस बार के यूपी के विधानसभा चुनाव प्रचार से दूर ही रहा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment