.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: सपा ने अवाम को धोखा दिया, बाबा साहब हमारे दिल में हैं- असदुद्दीन ओवैसी




मुबारकपुर में खूब गरजे एआइएमआइएम प्रमुख,कहा हमें एकजुट होकर लड़ना हाेगा

मुबारकपुर में पार्टी प्रत्याशी शाह आलम गुड्डू जमाली के लिए की जनसभा, भारी संख्या में उमड़े युवा

आजमगढ़: एआइएमआइएम के प्रमुख असदुद्​दीन व सांसद ओवैसी बुधवार को मुबारकपुर में खूब गरजे। उन्होंने यहां पार्टी प्रत्याशी शाह आलम गुड्डू जमाली के पक्ष में जनसभा को संबोधित किया। भारी भीड़ देख गदगद हुए और अपने जोशीले संबोधन में उन्होंने सपा और बसपा की जमकर घेरेबंदी की। कहा कि बाबा साहेब आंबेडकर हमारे दिल में हैं। कहा कि सपा ने पूरे अवाम को धोखा दिया है। हमें एकजुट होकर लड़ना हाेगा, सिर्फ मजहब नहीं, बल्कि दबे, कुचले गरीबों को न्याय दिलाने के लिए। उनके एक-एक जोशीले शब्द का जवाब सामने से हजारों युवा हाथ उठाकर दे रहे थे।
एआइएमआइएम प्रमुख ने करीब आधे घंटे के भाषण में मुस्लिम मतदाताओं में ऊर्जा भरने में कोई कसर बाकी नहीं रखी। उन्होंने मुबारकपुर के मुदर्रिशीन को सलाम करता हूं, के उच्चारण के साथ अपना संबोधन शुरू किया। कहा कि मौका मिला तो ओलमाओं की जूतियों को उठाकर अपने सिर पर रखूंगा। इत्तेहाद जिंन्दगी है, इंतिशार मौत है। इसलिए आप लोगों को एकजुट होकर रहना होगा। जालिम हुकूमतों के जुल्म को हमने बर्दास्त किया है। मेरा सियासी सफर आसान नहीं था। मैं रईसजादे का बेटा नहीं हूं, लेकिन मेंरे मां-बाप ने सच्चाई का सामना करना जरूर सिखाया है।
सच्चाई बयान करने में ही 1990 में पुलिस ने मुझे एक नहीं पांच बार सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। कहाकि हम गोलियों से नहीं, बल्कि अल्लाह से डरते हैं। सपा ने मुबारकपुर की अवाम को धोखा दिया है। भारत में 540 सांसद हैं, लेकिन जब इंसाफ की बात करने को मैं सदन खड़ा होता हूं, तो बीजेपी के 306 एमपी कहते हैं बैठ जाओ। मैं सिर्फ मुसलमान की बात नहीं करता, बल्कि किसी भी मजहब के कमजोर वर्ग, समाज में दबे-कुचलों की आवाज उठाता हूं। बाबा साहब अम्बेडकर हमारे दिल में हैं। हम कमजोरों, मजलूमों को इंसाफ दिलाना चाहते हैं।
हमारी मंशा मेडिकल कालेज बनवाने की है, ताकि जिन गरीबों से वोट लिया उसे कम से कम पैसे में इलाज की व्यवस्था दे सकूं। हिजाब के बारे में अखिलेश खामोश रहे, वह आप लोगों को वोट का कैदी समझते हैं। मुबारकपुर की जनता अखिलेश को इस चुनाव में सबक सिखाएगी। जब तक आप का नेता नहीं होगा, किसी की बात नहीं सुनी जाएगी। ऐसे हमें सोच-समझकर अपना नेता चुनना होगा। भाषण का समापन करते कहाकि कल की जनसभा में आने का न्यौता देते कार्यकर्ताओं में जोश भरा ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment