.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: अपने लिए नहीं अपने लोगों के लिए लड़ना है चुनाव- शाह आलम गुडडू जमाली


मुबारकपुर से टिकट न मिलने पर बोले, अखिलेश यादव ने किया था टिकट का वादा

आज़मगढ़: समाजवादी पार्टी ने सोमवार को आजमगढ़ जिले की दो सीटों के प्रत्याशियों की घोषणा की। सपा ने मुबारकपुर से अखिलेश यादव व सगड़ी से डा. एचएन पटेल को प्रत्याशी बनाया है। मुबारकपुर से इस बार समाजवादी पार्टी से हाल ही में बसपा छोड़कर आए शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली भी चुनाव लड़ना चाहते थे। 25 नवम्बर को शाह आलम की सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव से मुलाकात भी हुई थी और पार्टी की तरफ से टिकट दिए जाने का आश्वासन भी दिया गया था पर सपा ने गुड्‌डू जमाली के स्थान पर पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव को प्रत्याशी बनाया है। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव से 25 जनवरी की मुलाकात के बाद चुनाव लड़ाने की बात को स्वीकार किया था। शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली का कहना है कि अखिलेश यादव से बात हुई थी, पर कुछ परिस्थितियां होंगी जिस कारण टिकट नहीं दिया गया। चुनाव लड़ने के सवाल पर गुड्‌डू जमाली का कहना है कि अपने समर्थकों और परिजनों से सलाह-मशवरा कर चुनाव लड़ने का निर्णय लेंगे। बहुत से लोग हमसे जुड़े हैं उनकी भावनाओं को भी देखना है। अभी इस बारे में कुछ कह पाने की स्थिति में नहीं हूं। सभी लोगों के फोन आ रहे हैं, टिकट का वादा था पर नहीं मिला।
जिले की मुबारकपुर सीट से बसपा के टिकट पर 2 बार विधायक बने शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने 25 नवंबर को बहुजन समाज पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। अपने इस्तीफे में उन्होंने लिखा था कि वो पार्टी और बहनजी पर बोझ बनकर नहीं रहना चाहते। 25 जनवरी को सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव से गुड्डू जमाली की मुलाकात के बाद मुबारकपुर सीट पर सियासी समीकरण बदलने लगे थे। अखिलेश यादव ने गुड्‌डू जमाली को टिकट का आश्वासन दिया था और गुड्‌डू जमाली ने भी विधानसभा चुनाव लड़ने की बात को स्वीकार भी किया था। गुड्‌डू जमाली की अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद मुबारकपुर विधानसभा सीट से टिकट के दावेदारों में सन्नाटा पसर गया था। मुबारकपुर विधानसभा की गिनती जिले के मुस्लिम बाहुल्य विधानसभा क्षेत्रों में होती है।
जिले की मुबारकपुर सीट की अगर बात करें तो 1993 में सपा-बसपा गठबंधन के समय इस सीट पर सपा का कब्जा रहा। उस समय इस सीट पर रामदर्शन यादव चुनाव जीते थे। जो इस बार प्रसपा के प्रत्याशी हैं। वहीं 1996 में इस सीट से यशवंत सिंह चुनाव जीते थे। 2002 से 2012 तक इस सीट पर बसपा के चन्द्रदेव राम करेली का कब्जा रहा जबकि 2012 से अभी तक इस सीट से गुड्‌डू जमाली विधायक हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment