.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: जीरो टालरेंस पर होगा निर्वाचन कार्य, लापरवाही होगी अक्षम्य- डीएम



अनुपस्थिति एआरओ को विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि दी जाए

कहीं भी वालराइटिग, पोस्टर, बैनर नहीं दिखना चाहिए: डीएम

आजमगढ़: डीएम अमृत त्रिपाठी ने सभी सभी आरओ को निर्देश दिए कि जो भी एआरओ प्रशिक्षण में अनुपस्थित हैं, तत्काल लिखित रूप से सूचित किया जाए। उनके विरुद्ध विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि देकर निर्वाचन आयोग को सूचित किया जाए। उन्होंने आरओ व एआरओ से कहाकि विधानसभा सामान्य निर्वाचन कार्यों के दौरान जीरो टालरेंस पर कार्य किया जाएगा। किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने यह बातें रविवार को नेहरू हाल में आरओ व एआरओ के प्रशिक्षण कार्यक्रम में कहीं।
डीएम ने कहा कि पूरी निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान कोविड-19 गाइडलाइन का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। आचार संहिता लगने के 24 घंटे के अंदर सभी प्रकार की प्रचार सामग्रियों को हटाया जाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि कहीं भी वालराइटिग, पोस्टर, बैनर नहीं दिखाई देना चाहिए। सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि सबसे पहले निर्वाचन आयोग की जारी गाइडलाइन का भली-भांति अध्ययन कर लें। जो निर्देश दिए गए हैं, उसे याद कर लें और अपने अच्छे व्यवहार एवं आचरण प्रत्याशियों के साथ करें। कहा कि हमारी प्राथमिकता चुनाव लड़ने वाले व्यक्ति की मदद व सहयोग करना होना चाहिए। कहा कि चेक लिस्ट की कमी को पूरा करें। नामांकन, नामांकन पत्रों की जांच और नाम वापसी से संबंधित आयोग के निर्देश का पालन किया जाना सुनिश्चित कर लें। कहाकि नामांकन पत्रों की जांच का कार्य आरओ करेंगे। अपरिहार्य परिस्थितियों में ही एआरओ करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रत्याशी की उपस्थिति में ही पूरी नामांकन पत्रों की जांच की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। छोटी गलतियों को प्रत्याशी सुधार करवा लें। एडीएम (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र, एडीएम (एफआर) आजाद भगत सिंह भी थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment