.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: दोस्त की हत्या का आरोपी पुलिस मुठभेड़ में घायल


मृत युवक का मोबाइल बरामद करने ले गई पुलिस टीम पर आरोपी ने झोंका था फायर

आजमगढ़: जिले के मेंहनगर थाना क्षेत्र के गौरा गांव के पास बुधवार सुबह हत्या कर दफनाया हुआ शव मिला था। शव की शिनाख्त बलिया जिले के रहने वाले सरस्वती शिशु मंदिर मेंहनगर के अध्यापक ओेमप्रकाश के बेटे ओजस(18) के रूप में हुई। वहीं मामले में आरोपी युवक पुलिस से मुठभेड़ में घायल हो गया। पुलिस ने घायल आरोपी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस के अनुसार, बलिया जिल के मेंहनगर के सरस्वती शिशु मंदिर अध्यापक पद पर तैनात शिक्षक ओमप्रकाश राजभर मेंहनगर कस्बा के वार्ड नंबर-10 में किराये का मकान लेकर परिवार सहित रहते थे। इनका बेटा ओजस(18) 24 जनवरी से गायब था। शिक्षक ओमप्रकाश ने 25 जनवरी को मेंहनगर थाने में सूचना दी। तहरीर पर पुलिस ने अपहरण का मुकदमा दर्ज किया था। मेंहनगर थाना प्रभारी निरीक्षक विमल प्रकाश राय ने बताया कि अपहरण की सूचना से ही पुलिस आरोपी की तलाश में लगी हुई थी। मंगलवार की रात करीब 10 बजे पुलिस उस मुकाम तक पहुंची। जहां शिक्षक के बेटे की हत्या कर दफना दिया गया था।
उसके बाद आरोपी की निशानदेही पर शव को खोदकर निकाला गया। पुलिस ने इस घटना के आरोपी वतन सिंह उर्फ राजा सिंह को हिरासत में ले लिया। एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि पूछताछ के दौरान जब पुलिस उसे लेकर मोबाइल की बरामदगी के लिए गई तो उसने उस स्थान पर पहले से छिपाकर रखे तमंचे से पुलिस पर फायर कर दिया और भागने लगा।
पुलिस द्वारा चलाई गई गोली उसके दाहिने पैर में लगी। पुलिस घायल वतन सिंह को लेकर मेंहनगर स्वास्थ्य केंद्र पहुंची, जहां चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। एसपी ने बताया कि घटना के पीछे पैसे वसूल करने का इरादा था। मामले में 302, 201, 203 व 120 बी धाराएं बढ़ा दी गई हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment