.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: प्रधान मनीष राय हत्याकांड में शामिल लोगों का गैंग पंजीकृत हुआ


'गुरुप्रसाद गैंग' में हैं 09 अन्य सक्रिय अपराधी , इनका कोड नाम डी-79 होगा- अनुराग आर्य, एसपी

आजमगढ़: गंभीरपुर थाने अमौड़ा गांव के प्रधान रहे मनीष राय की हत्या में शामिल आठ बदमाशों की गिरोह को पुलिस ने अपने रिकार्ड में दर्ज कर लिया। पुलिस अब इन बदमाशों के खिलाफ आगे की कार्रवाई में जुटी है। एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि गंभीरपुर थाने के पुलिस की रिपोर्ट पर जो गैंग पंजीकृत की गयी है। उसका मुख्य सरगना अमौड़ा गांव निवासी गुरु प्रसाद उर्फ बेचू राय पुत्र कल्पनाथ राय सरगना है। जो वर्तमान समय में जनपद आजमगढ़ के एक संगठित गैंग बनाकर व स्वयं गैंग का लीडर बनकर आर्थिक भौतिक व अनुचित लाभ के लिए अपराध कार्य कर रहा है। इसकी गतिविधियों पर प्रभावी अंकुश लगाए जाने हेतु इस गैंग को जनपद स्तर पर सूचीबद्ध किया गया है।
एसपी ने बताया की इस गैंग का नाम “गुरुप्रसाद” गैंग रखा गया है। इस गैंग का नंबर के डी-79 होगा। इस गिरोह में आजमगढ़ और जौनपुर जिले के बदमाश शामिल हैं। इस गिरोह के सदस्यों में गंभीरपुर थाने के अमौड़ा गांव निवासी चंदन राय, कृष्णा राय, कौशल किशोर राय, अभिषेक उर्फ बच्चा राय, पंकज मिश्रा, चंद्रशेखर उर्फ घूरहू सरोज, राजेंद्र प्रजापति, दीपक उर्फ उपेंद्र राय और जौनपुर जिले के केराकत थाने के बड़ेरा गांव निवासी योगेश सिंह उर्फ गोलू का नाम शामिल है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment