.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: पुलिस मुठभेड़ में दो गिरफ्तार, शूटर को लगी गोली



मनीष राय हत्याकांड के वादी और गवाह की हत्या की थी योजना

गंभीरपुर क्षेत्र के बहादुरपुर राइस मिल के समीप हुआ पुलिस से सामना

आजमगढ़ : मनीष राय हत्याकांड के वादी मुकदमा और गवाह की हत्या के इरादे से घूम रहे दो बदमाशों को पुलिस मुठभेड़ में बुधवार को तड़के गिरफ्तार कर लिया गया।पुलिस की गोली से घायल शूटर को मंडलीय जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पकड़े गए बदमाशों में पंकज मिश्रा गंभीरपुर और शूटर योगेश सिंह उर्फ गोलू जौनपुर जिले के केराकत थाना क्षेत्र का रहने वाला है। एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि गंभीरपुर थाना और क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम बुधवार की भोर में क्षेत्र में भ्रमण कर रही थी।इसी दौरान पता चला कि मनीष हत्याकांड के वादी और गवाह की हत्या के इरादे से दो बदमाश घूम रहे हैं। उनकी तलाश में पुलिस जुटी तो बहादुरपुर स्थित राइस मिल के पास बदमाशों का आमना-सामना हो गया। पुलिस को देख बदमाशों ने फायर किया, तो पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करके दोनों बदमाशों को पकड़ लिया। इसमें योगेश सिंह उर्फ गोलू को पैर में गोली लगी। इस वर्ष 18 जनवरी की शाम छह बजे गंभीरपुर थाना के अमौड़ा गांव के प्रधान पति मनीष राय की उस समय हत्या कर दी गई थी, जब वह अपनी दुकान पर बैठकर किसी से बातचीत कर रहे थे।विवेचना में तथ्य में प्रकाश में आया कि हत्या की साजिश में अनुज राय, दीपक राय, छवि राय, पंकज मिश्रा और जौनपुर के केराकत का निवासी शूटर योगेश सिंह उर्फ गोलू शामिल थे। अभी और विवेचना जारी है। पुलिस की सफलता पर एसपी की तरफ से संयुक्त टीम को 15 हजार के नगद पुरस्कार की घोषणा की गई है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment