.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: पेड़ से लटकी मिली युवक की लाश ,पर्व की खुशियां मातम में तब्दील


जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के बर्जला गांगेपुर गांव में पेड़ से लटकता मिला शव

आजमगढ़: एक तरफ जहां लोग दीप पर्व दीपावली को उत्साहपूर्वक मनाने के लिए घरों की साफ-सफाई में जुटे हैं। वहीं जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के बर्जला गांगेपुर गांव में बुधवार की सुबह त्यौहार की खुशियां मातम में तब्दील हो गईं। कारण कि गांव के एक युवक जिसके कंधे पर परिवार की जिम्मेदारी थी उसकी लाश घर से लगभग 800 मीटर दूर स्थित बगीचे में पेड़ से लटकती पाई गई। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। जीयनपुर क्षेत्र के बर्जला गांगेपुर ग्राम निवासी 42 वर्षीय संतविजय राय पुत्र परमानंद राय मंगलवार की रात परिजनों के साथ भोजन करके सोए। बुधवार को तड़के करीब पांच बजे वह उठे और दैनिक क्रिया के लिए अपने खेत की ओर निकल गए। काफी देर जब वह घर नहीं लौटे तो परिजन उनका इंतजार करने लगे। इसी बीच गांव के कुछ लोग आबादी से लगभग 800 मीटर दूर स्थित बगीचे की ओर गए, जहां पेड़ से रस्सी के सहारे लटक रही संतविजय की लाश देख सभी दंग रह गए। घटना की सूचना पाते ही मृतक के परिवार में कोहराम मच गया। सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। युवक ने किन परिस्थितियों में आत्महत्या जैसा कड़ा कदम उठाया, इस बारे में पुलिस छानबीन कर रही है। इस घटना से गांव के लोग भी हैरान हैं। मृतक मां-बाप का इकलौता पुत्र था। वह एक पुत्र और एक पुत्री का पिता था। पत्नी का नाम लक्ष्मी है। मौत की सूचना मिलते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। संत विजय के माता-पिता बांदा में मकान बनवा कर रहते हैं। ग्रामीणों कहना है कि संतविजय ने कुछ काम के लिए कर्ज लिया था। हो सकता है इसी परेशानी ने उसे आत्मघाती कदम उठाने को मजबूर किया हो।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment