.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: गैस सिलेंडर विस्फोट से तीन परिवार हुए बेघर



मदद को पंहुच रहे लोग,थाना प्रभारी ने नौ तो पूर्व ब्लाक प्रमुख ने दिए 10 हजार

आजमगढ़: निजामाबाद थाना क्षेत्र के डोडोपुर गांव में शुक्रवार की शाम गैस सिलेंडर विस्फोट से बड़ा नुकसान हुआ। विस्फोट तो लालमन के घर में हुआ, लेकिन उनके सहित तीन परिवार बेघर हो गए। लालमन का पक्का मकान गिरा तो वहीं आसिफ और महरुद्दीन का कच्चा घर जमींदोज हो गया। तीनों परिवारों के लोग अब दूसरों के घरों में शरण लेने को विवश हैं। दरअसल लालमन के मकान में गैस सिलेंडर में आग लगने की सूचना पर पूरी बस्ती में अफरा-तफरी मची तो आसिफ और महरुद्दीन का परिवार भी घर से बाहर निकल गया था। अभी लोग आग को लेकर परेशान ही थे कि धमाके साथ लालमन का मकान ध्वस्त हो गया। घायलों के परिवार के लोगों के अस्पताल पहुंचने के कारण यहां कोई कुछ बताने की स्थिति में तो नहीं दिखा, लेकिन हर व्यक्ति घटना से आहत था। थाने की पुलिस गांव में रातभर डेरा डाले रही और मलबा हटाने में ग्रामीणों का सहयोग किया।दूसरी ओर हादसे की जानकारी के बाद सुबह से ही नात-रिश्तेदारों और शुभचितकों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। डोडोपुर गांव में गैस सिलेंडर विस्फोट के बाद घायलों के रिश्तेदारों के अलावा क्षेत्रीय लोग उनका हालचाल और मदद के लिए पहुंचने लगे हैं। मदद करने वालों में थाना प्रभारी मोती लाल पटेल ने जहां अपने स्तर से लालमन को नौ हजार रुपये दिए वहीं पूर्व प्रमुख इसरार अहमद ने गांव पहुंचकर 10 हजार रुपये प्रदान किया। इसके साथ ही अन्य कई लोगों ने भी अस्पताल पहुंचकर मदद करने का आश्वासन दिया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment