.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़:एसटीएफ ने छापा मार अवैध शराब फैक्ट्री का किया भंडाफोड़



1200 ली स्प्रिट, 30 पेटी अवैध शराब बरामद, 2 गिरफ्तार, एक फरार

बरामद शराब लगभग 25 लाख की ,डीएम के आदेश पर शराब दुकानों पर शुरू हुई चेकिंग

आजमगढ़ : एसटीएफ लखनऊ की टीम ने मंगलवार को सुबह जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के दाऊदपुर गांव में छापेमारी कर अवैध रूप से संचालित शराब बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया । मौके से पुलिस ने 1200 ली स्प्रिट, 30 पेटी में भरा अवैध शराब बरामद समेत भारी मात्रा में खाली शीशी, रैपर, बार कोड आदि सामान बरामद किया । पुलिस ने इस कारोबार में लिप्त दो तस्करों को गिरफ्तार कर लिया । जबकि मुख्य शराब कारोबारी पुलिस को चकमा देकर भाग निकला ।
जिले में भारी मात्रा में हुई शराब बरामदगी की खबर पाकर मौके पर डीएम राजेश कुमार, एसपी सुधीर कुमार सिंह संग अन्य आला अधिकारी मौके पर फोर्स संग पहुंच गए । एसपी ने बरामद शराब की कीमत 25 लाख से अधिक का होना बताया है । डीएम के आदेश पर जिले भर में शराब की दुकानों की चेकिंग की जा रही है । फरार मुख्य आरोपित की पुलिस तलाश कर रही है । जिले के पवई व दीदारगंज क्षेत्र में बीते माह अवैध जहरीली शराब पीने से दर्जनों लोगों की मौत हो गई थी । इस घटना के बाद अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू कर दी थी । पुलिस व प्रशासन के सख्त कार्रवाई के बाद भी अवैध शराब कारोबारियों के हौसले न तो जिले में पस्त हुए और न ही अवैध शराब का कारोबार खत्म हुआ । इसका उदाहरण जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र में मंगलवार को भारी मात्रा में हुई अवैध शराब की बरामदगी ही इस बात का खुलासा कर रही है कि पुलिस व प्रशासन का अवैध शराब कारोबारियों पर कोई अंकुश नहीं लग पा रहा है । जिले में अवैध शराब की बिक्री धड़ल्ले से की जा रही है । मुखबिर की सूचना पर एसटीएफ लखनऊ की टीम मंगलवार को सुबह ही जीयनपुर धमक पड़ी । एसटीएफ ने जीयनपुर कोतवाली पुलिस के साथ दाऊदपुर गांव में पहुंच कर एक मकान में छापेमारी की । छापेमारी के दौरान उक्त मकान के अंदर अवैध रूप से संचालित शराब बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया । मौके से एसटीएफ ने भारी मात्रा में अवैध शराब, शराब बनाने के उपकरण, खाली शीशी, ढक्कन, बार कोड आदि सामान बरामद किया । इस कारोबार में लिप्त दो शराब तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया । जबकि मुख्य शराब कारोबारी पन्ना लाल जनपद मऊ के घोसी निवासी मौके से पुलिस को चकमा देकर भाग निकला । पकड़े गए शराब तस्करों से पूछताछ के बाद पुलिस फरार मुख्य आरोपित की तलाश कर रही है । 
अवैध शराब बरामदगी की खबर पाकर जिलाधिकारी राजेश कुमार और पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह भी जीयनपुर कोतवाली पहुंचे । इस दौरान एसपी और डीएम ने बताया कि इस एसटीएफ की कार्रवाई में 30 पेटी अवैध शराब, 1200 लीटर स्प्रिट, यूरिया, नौसादर, हजारों खाली शीशियां, ढक्कन, रैपर और बारकोड बरामद हुआ । एसपी ने कहा कि बरामद शराब बंटी बबली, बॉम्बे स्पेशल जैसे अन्य ब्रांड की नकली शराब हैं । शराब की शीशी पर रैपर व बारकोड लगाकर उसे सरकारी ठेकों पर सप्लाई किया करते थे। इस पर डीएम ने भारी मात्रा में अवैध शराब मिलने के बाद आजमगढ़ व आसपास जनपदों के सभी सरकारी शराब की दुकानों पर चेकिंग की जा रही है । जिससे कि इस शराब को पीने से कोई हादसा ना हो। बरामद अवैध शराब की कीमत करीब 25 लाख रुपए बताई गई है।
एसपी ने बताया कि गिरफ्तार शराब तस्करों में धीरेन्द्र सिंह पुत्र जय प्रकाश निवासी दाउदपुर थाना जीयनपुर, मनोज उर्फ धनन्जय पुत्र स्व जानकी निवासी ढेलुबा बसन्तपुर अजमतगढ़ थाना जीयनपुर के निवासी हैं। फरार शराब तस्करों में पन्ने कहार पुत्र अज्ञात निवासी पाण्डेयपार बोइनी थाना घोसी जनपद मऊ, धीरु सिंह पुत्र रणजीत सिंह ग्राम भटौली इब्राहिमपुर थाना जीयनपुर, विनय सिंह पुत्र अज्ञात निवासी पाण्डेयपार थाना घोसी जनपद मऊ व गोलू राय पुत्र अज्ञात निवासी कुढ़हनी के निवासी है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment